Zee-Sony की डील टूटने पर म्यूचुअल फंड और बीमा कंपनियों को भी तगड़ा झटका, 3130 करोड़ का नुकसान

Zee-Sony की डील टूटने पर म्यूचुअल फंड और बीमा कंपनियों को भी तगड़ा झटका, 3130 करोड़ का नुकसान

[ad_1]

Zee-Sony Merger : सोनी और ज़ी एंटरटेनमेंट (Zee entertainment) के बीच मर्जर की डील टूटने से म्यूचुअल फंड और बीमा कंपनियों को भी तगड़ा झटका लगा है। इन्हें 23 जनवरी को कुल-मिलाकर करीब 3130 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया के साथ 10 अरब डॉलर का मर्जर डील विफल होने के बाद 23 जनवरी को निवेशकों में अफरातफरी देखी गई। इसके चलते ज़ी एंटरटेनमेंट के शेयर 32 फीसदी से अधिक टूट गए। हालांकि, आज 24 जनवरी को स्टॉक में कुछ रिकवरी हुई है। यह स्टॉक 6.70 फीसदी बढ़कर 166.35 रुपये के भाव पर बंद हुआ है।

म्यूचुअल फंड और बीमा कंपनियों के पास कितनी हिस्सेदारी?

दिसंबर 2023 तिमाही तक म्यूचुअल फंड के पास 31.20 करोड़ शेयरों के साथ 32.49 फीसदी हिस्सेदारी थी, जबकि बीमा कंपनियों के पास ज़ी एंटरटेनमेंट में 10.24 करोड़ शेयरों के साथ 10.66 फीसदी हिस्सेदारी थी। बीएसई पर शेयरहोल्डिंग पैटर्न के अनुसार म्यूचुअल फंड ने सितंबर 2021 से लगातार आठ तिमाहियों में ज़ी में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाई है। यह 7.26 फीसदी से बढ़कर वर्तमान में 32.49 फीसदी हो गई है।

मार्केट वैल्यू 7,300 करोड़ रुपये घटी

23 जनवरी को स्टॉक में एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट देखी गई, जिससे मार्केट वैल्यू में करीब 7300 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। सेबी की जांच के अनुसार एक न्यूज रिपोर्ट के बाद बिकवाली तेज हो गई, जिसमें आरोप लगाया गया कि ज़ी प्रमोटरों ने 800-1000 करोड़ रुपये की हेराफेरी की, जो 200 करोड़ रुपये के शुरुआती अनुमान से अधिक है।

सोनी के साथ डील टूटने के बाद जी के स्टॉक को कई ब्रोकरेज कंपनियों ने डाउनग्रेड कर दिया। सोनी ने मर्जर कोऑपरेशन एग्रीमेंट के कथित उल्लंघनों पर 9 करोड़ डॉलर टर्मिनेशन फीस की भी मांग की, ज़ी ने इस आरोप से इनकार कर दिया।

ब्रोकरेज ने किया डाउनग्रेड

UBS सिक्योरिटीज ने कहा कि यह डील कैंसिल होने का Zee पर नेगेटिव असर पड़ेगा। ब्रोकरेज फर्म CLSA ने भी मर्जर डील खत्म होने के बाद वैल्यूएशन 18 गुना से घटकर 12 गुना तक आने की आशंका जताई है। इसके साथ ही UBS ने Zee Entertainment के शेयरों की रेटिंग ‘Buy’ से घटाकर ‘Sell’ कर दी है। कंपनी ने इसका टारगेट प्राइस भी 34 फीसदी घटाकर 198 रुपए कर दिया था। जिसे कंपनी ने आज ही तोड़ दिया। दोपहर 1.53 मिनट पर कंपनी के शेयर 28 फीसदी नीचे 166.40 रुपए पर आ गई है।

सिटी ने Zee Entertainment के शेयरों को डाउनग्रेड करके ‘Sell’ रेटिंग कर दी है। इसके साथ ही इसका प्राइस टारगेट 50 फीसदी से ज्यादा घटाकर 180 रुपए कर दिया है। इसी तरह मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज ने भी Zee Entertainment के शेयरों की रेटिंग डाउनग्रेड करके ‘Buy’ से ‘Neutral’ कर दी है।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )