Vedanta : अगले 9-12 महीनों में पूरी हो जाएगी डीमर्जर की प्रक्रिया, एल्युमीनियम बिजनेस के CEO ने दी जानकारी

Vedanta : अगले 9-12 महीनों में पूरी हो जाएगी डीमर्जर की प्रक्रिया, एल्युमीनियम बिजनेस के CEO ने दी जानकारी

[ad_1]

Vedanta Share Price : अरबपति अनिल अग्रवाल की वेदांता लिमिटेड की डीमर्जर प्रक्रिया अगले 9-12 महीनों में पूरी हो जाएगी। कंपनी के एक सीनियर अधिकारी ने यह जानकारी दी है। अधिकारी ने कहा कि वेदांता एल्युमीनियम सहित अपने प्रमुख बिजनेस को अलग-अलग लिस्ट कंपनियों में विभाजित करने के लिए “सक्रिय रूप से” काम कर रही है। यह प्रक्रिया अगले 9 से 12 महीने में पूरी होने की संभावना है। वेदांता लिमिटेड ने अपने मेटल, पावर, एल्यूमीनियम और ऑयल व गैस बिजनेस को अलग-अगले करके इंडिपेंडेंट वर्टिकल बनाने की पिछले साल घोषणा की थी। इस खबर के बीच वेदांता के शेयरों में 2.50 फीसदी की गिरावट आई है और यह स्टॉक 267.50 रुपये के भाव पर बंद हुआ है।

Vedanta के एल्युमीनियम बिजनेस के CEO का बयान

वेदांता के एल्युमीनियम बिजनेस के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर (CEO) जॉन स्लेवेन ने कहा, “हम एल्युमीनियम बिजनेस के सफल विभाजन को सुनिश्चित करने के लिए बहुत सक्रिय रूप से काम कर रहे हैं।” उन्होंने कहा कि बिजनेस को अलग-अलग करने की प्रक्रिया अभी जारी है और इसे कई अथॉरिटी से अप्रुवल की जरूरत है।

स्लेवेन ने कहा, “अलग की जाने वाली कई संस्थाओं में कर्ज के आवंटन में वर्तमान ऋणदाताओं से भी अनुमति लेने की जरूरत है। यह प्रक्रिया जारी है। यह प्रत्यक्ष तौर पर हमारे हाथ में नहीं है। इसलिए दुर्भाग्य से मैं आपको स्पष्ट रूप से यह बताने की स्थिति में नहीं हूं कि यह कब होगा। हमें भरोसा है कि अगले 9 से 12 महीने में यह प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।”

इन जगहों पर जल्द शुरू होगा प्रोडक्शन

उन्होंने कहा कि यह वेदांता के एल्युमीनियम बिजनेस के लिए एक बेहतर कदम साबित होगा क्योंकि इससे वेदांता एल्युमीनियम को अपना रास्ता तय करने में मदद मिलेगी। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि वेदांता की सिजिमाली बॉक्साइट खदान में उत्पादन अगले वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में शुरू हो जाएगा। इसके अलावा कंपनी की कुरलोई, राधिकापुर, घोघरपल्ली स्थित अन्य तीन कोयला खदानों में करीब 9 से 18 महीने में उत्पादन शुरू होगा।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )