Trade setup for today : बाजार बड़े इवेंट्स के पहले दायरे में, मुनाफे वाले सौदे पकड़ने के लिए इन आंकड़ों पर रहे नजर

Trade setup for today : बाजार बड़े इवेंट्स के पहले दायरे में, मुनाफे वाले सौदे पकड़ने के लिए इन आंकड़ों पर रहे नजर

[ad_1]

Trade setup: डेली चार्ट पर डार्क-क्लाउड-कवर पैटर्न और बियरिश रिवर्सल पैटर्न के गठन के साथ बाजार में मंदड़िए एक्शन मोड में दिख रहे हैं। लेकिन कुल मिलाकर बाजार बड़े इवेंट्स के पहले (एफओएमसी बैठक के परिणाम और अंतरिम बजट) एक दायरे में घूम रहा है। बाजार जानकारों का कहना है कि आग किसी करेक्शन की स्थिति में निफ्टी 21,400-21,300 के जोन में सपोर्ट मिल सकता है। वहीं, ऊपर की तरफ इसे 21,700-21,800 के जोन में रजिस्टेंस का सामना करना पड़ सकता है।

30 जनवरी को, बीएसई सेंसेक्स 802 अंक गिरकर 71,140 अंक पर बंद हुआ था। जबकि निफ्टी इंट्राडे में 21,800 की बाधा को पार करने के बाद 216 अंक गिरकर 21,522 पर आ गया था।

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ तकनीकी अनुसंधान विश्लेषक नागराज शेट्टी का कहना है कि तकनीकी रूप से, “डार्क-क्लाउड-कवर पैटर्न का गठन शॉर्ट टर्म के लिए कुछ और कमजोरियों का संकेत देता है।”

उन्हें उम्मीद है कि मौजूदा कमजोरी गिरावट पर खरीदारी का मौका होगी। उन्होंने कहा, “बाजार 1 फरवरी को केंद्रीय बजट 2024 की प्रमुख आर्थिक घटना से पहले स्पष्ट दिशा का इंतजार कर सकता है। निफ्टी के लिए 21,420 के स्तर पर तत्काल सपोर्ट दिख रहा है।”

यहां आपको कुछ ऐसे आंकड़े दे रहे हैं जिनके आधार पर आपको मुनाफे वाले सौदे पकड़ने में आसानी होगी। यहां इस बात का ध्यान रखें कि इस स्टोरी में दिए गए ओपन इंटरेस्ट (OI)और स्टॉक्स के वॉल्यूम से संबंधित आंकड़े तीन महीनो के आंकड़ों का योग हैं, ये सिर्फ चालू महीने से संबंधित नहीं हैं।

Nifty के लिए की सपोर्ट और रजिस्टेंस लेवल

निफ्टी के लिए पहला रजिस्टेंस 21,731 और उसके बाद दूसरे बड़े रजिस्टेंस 21,805 और 21,924 पर स्थित हैं। अगर इंडेक्स नीचे की तरफ रुख करता है तो 21,493 फिर 21,420 और 21,301 पर इसको सपोर्ट मिल सकता है।

बैंक निफ्टी

निफ्टी बैंक के लिए पहला रजिस्टेंस 45,598 और उसके बाद दूसरे बड़े रजिस्टेंस 45,710 और 45,890 पर स्थित हैं। अगर इंडेक्स नीचे की तरफ रुख करता है तो 45,237 फिर 45,125 और 44,945 पर इसको सपोर्ट मिल सकता है।

कॉल ऑप्शन डेटा

वीकली बेसिस पर 22,500 की स्ट्राइक पर 72.4 लाख कॉन्ट्रैक्ट का अधिकतम कॉल ओपन इंटरेस्ट देखने को मिला है जो आगे आने वाले कारोबारी सत्रों में अहम रजिस्टेंस लेवल का काम करेगा। 21,700 की स्ट्राइक पर सबसे ज्यादा काल राइटिंग देखने को मिली। इस स्ट्राइक पर 37.82 लाख कॉन्ट्रैक्ट जुड़े। 21,300 की स्ट्राइक पर सबसे ज्यादा कॉल अनवाइंडिंग देखने को मिली।

पुट ऑप्शन डेटा

21,000 की स्ट्राइक पर 47.5 लाख कॉन्ट्रैक्ट का अधिकतम पुट ओपन इंटरेस्ट देखने को मिला है जो आने वाले कारोबारी सत्रों में अहम सपोर्ट लेवल का काम करेगा। 20,700 की स्ट्राइक पर पुट राइटिंग देखने को मिली। इस स्ट्राइक पर 11 लाख कॉन्ट्रैक्ट जुड़े। 21,700 की स्ट्राइक पर सबसे ज्यादा पुट अनवाइंडिंग देखने को मिली।

34 स्टॉक्स में दिखा लॉन्ग बिल्ड-अप

ओपन इंटरेस्ट में बढ़त के साथ ही कीमतों में भी होने वाली बढ़त से आमतौर पर लॉन्ग पोजीशन बनने का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन 34 शेयरों में लॉन्ग बिल्ड-अप देखने को मिला। इनमें Container Corporation of India, Zee Entertainment Enterprises, Hindalco Industries, BPCL और Hero MotoCorp के नाम शामिल हैं।

54 स्टॉक्स में दिखी लॉन्ग अनवाइंडिंग

ओपन इंटरेस्ट में गिरावट के साथ ही कीमतों में भी होने वाली गिरावट से आमतौर पर लॉन्ग अनवाइंडिंग का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेंज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन जिन 54 शेयरों में सबसे ज्यादा लॉन्ग लॉन्ग अनवाइंडिंग देखने के मिली उनमें Coforge, GAIL India, MCX India, Ramco Cements और Dr Reddy’s Laboratories के नाम शामिल हैं।

67 स्टॉक्स में दिखा शॉर्ट बिल्ड-अप

ओपन इंटरेस्ट में बढ़त के साथ ही कीमतों में भी होने वाली गिरावट से आमतौर पर शॉर्ट बिल्ड-अप का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेंज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन जिन 67 शेयरों में सबसे ज्यादा शॉर्ट बिल्ड-अप देखने को मिला उनमें Coromandel International, Bajaj Finance, Chambal Fertilisers & Chemicals, Bharat Electronics और Bajaj Finserv के नाम शामिल हैं।

31 स्टॉक्स में दिखी शॉर्ट कवरिंग

ओपन इंटरेस्ट में गिरावट के साथ ही कीमतों में होने वाली बढ़त से आमतौर पर शॉर्ट कवरिंग का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेंज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन जिन 31 स्टॉक में सबसे ज्यादा शॉर्ट कवरिंग देखने को मिली उनमें जेके सीमेंट, सिंजीन इंटरनेशनल, बिड़लासॉफ्ट, डीएलएफ और अपोलो टायर्स के नाम शामिल हैं।

टाटा इन्वेस्टमेंट कॉर्प में मजबूत तिमाही नतीजों ने भरा दम, 20% बढ़कर नए रिकॉर्ड पर पहुंचा शेयर

पुट कॉल रेशियो

निफ्टी पुट कॉल रेशियो (पीसीआर) इक्विटी बाजार के मूड का इंडीकेटर होता है। निफ्टी पुट कॉल रेशियो 30 जनवरी को गिरकर 0.82 हो गया जो पिछले सत्र में 1.21 था। बता दें कि 1 के ऊपर का पीसीआर इस बात का संकेत होता है कि ट्रेडर्स कॉल की तुलना में पुट ऑप्शन ज्यादा खरीद रहे हैं, जो आम तौर पर मंदी की भावना में बढ़त का संकेत होता है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )