Trade setup for today : बाजार के दायरे में रहने की उम्मीद, मुनाफे वाले सौदे पकड़ने के लिए इन आंकड़ों पर रहे नजर

Trade setup for today : बाजार के दायरे में रहने की उम्मीद, मुनाफे वाले सौदे पकड़ने के लिए इन आंकड़ों पर रहे नजर

[ad_1]

Trade setup : तकनीकी रूप से, बाजार मजबूत दिख रहा है। निफ्टी आने वाले कारोबारी सत्रों में डेली चार्ट पर लोअर हाई, लोअर लो फॉर्मेशन को नकारता दिख रहा है। मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना कि निफ्टी 21,750 को पार करते हुए आगे बढ़ने के लिए तैयार है। इसके लिए 21,600-21,500 के स्तर पर सपोर्ट है। आने वाले सत्रों में ये 21,850-21,900 के स्तर तक जाता दिख सकता है। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि बैंक निफ्टी पिछले हफ्ते 200-डे ईएमए (एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज) से मजबूत उछाल के साथ दवाब से उबर गया है। अब इसमें भी तेजी देखने को मिलेगी।

29 जनवरी को, बाजार ने फरवरी सीरीज की मजबूत शुरुआत की। कल निफ्टी 385 अंक या 1.8 प्रतिशत उछलकर 21,738 पर पहुंच गया और डेली चार्ट पर एक लॉन्ग बुलिश कैंडलस्टिक पैटर्न बनाया। ये बाजार में तेजी के लौटने का संकेत है।

कोटक सिक्योरिटीज के हेड-इक्विटी रिसर्च श्रीकांत चौहान का मानना है कि मौजूदा बाजार की बनावट तेजी की है, लेकिन अस्थायी रूप से अधिक खरीदारी की स्थिति के कारण शॉर्ट टर्म में बाजार के रेंजबाउंड रहने की उम्मीद दिख रही है। निफ्टी के लिए 21,650-21,600 पर अहम सपोर्ट दिख रहा है। वहीं, 21,850-21,900 पर तत्काल रजिस्टेंस है। अगर निफ्टी 21,600 के नीचे जाता है तो फिर ये गिरावट बढ़ सकती है।

यहां आपको कुछ ऐसे आंकड़े दे रहे हैं जिनके आधार पर आपको मुनाफे वाले सौदे पकड़ने में आसानी होगी। यहां इस बात का ध्यान रखें कि इस स्टोरी में दिए गए ओपन इंटरेस्ट (OI)और स्टॉक्स के वॉल्यूम से संबंधित आंकड़े तीन महीनो के आंकड़ों का योग हैं, ये सिर्फ चालू महीने से संबंधित नहीं हैं।

Nifty के लिए की सपोर्ट और रजिस्टेंस लेवल

निफ्टी के लिए पहला रजिस्टेंस 21,768 और उसके बाद दूसरे बड़े रजिस्टेंस 21,850 और 21,977 पर स्थित हैं। अगर इंडेक्स नीचे की तरफ रुख करता है तो 21,516 फिर 21,437 और 21,310 पर इसको सपोर्ट मिल सकता है।

बैंक निफ्टी

निफ्टी बैंक के लिए पहला रजिस्टेंस 45,493 और उसके बाद दूसरे बड़े रजिस्टेंस 45,744 और 45,954 पर स्थित हैं। अगर इंडेक्स नीचे की तरफ रुख करता है तो 45,195 फिर 45,065 और 44,855 पर इसको सपोर्ट मिल सकता है।

कॉल ऑप्शन डेटा

वीकली बेसिस पर 22,500 की स्ट्राइक पर 55.49 लाख कॉन्ट्रैक्ट का अधिकतम कॉल ओपन इंटरेस्ट देखने को मिला है जो आगे आने वाले कारोबारी सत्रों में अहम रजिस्टेंस लेवल का काम करेगा। 22,400 की स्ट्राइक पर सबसे ज्यादा काल राइटिंग देखने को मिली। इस स्ट्राइक पर 21.14 लाख कॉन्ट्रैक्ट जुड़े। 21,400 की स्ट्राइक पर सबसे ज्यादा कॉल अनवाइंडिंग देखने को मिली।

Budget 2024 : बजट के दिन किसी बड़े घाटे से बचने के लिए क्या करें और क्या न करें, जानिए एक्सपर्ट्स की राय

पुट ऑप्शन डेटा

21,500 की स्ट्राइक पर 49.15 लाख कॉन्ट्रैक्ट का अधिकतम पुट ओपन इंटरेस्ट देखने को मिला है जो आने वाले कारोबारी सत्रों में अहम सपोर्ट लेवल का काम करेगा। 21,600 की स्ट्राइक पर पुट राइटिंग देखने को मिली। इस स्ट्राइक पर 32.66 लाख कॉन्ट्रैक्ट जुड़े। 20,300-23,100 की स्ट्राइक रेंज में सबसे ज्यादा पुट अनवाइंडिंग देखने को मिली।

86 स्टॉक्स में दिखा लॉन्ग बिल्ड-अप

ओपन इंटरेस्ट में बढ़त के साथ ही कीमतों में भी होने वाली बढ़त से आमतौर पर लॉन्ग पोजीशन बनने का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन 86 शेयरों में लॉन्ग बिल्ड-अप देखने को मिला। इनमें Godrej Properties, GAIL India, InterGlobe Aviation, National Aluminium Company और Coal India के नाम शामिल हैं।

4 स्टॉक्स में दिखी लॉन्ग अनवाइंडिंग

ओपन इंटरेस्ट में गिरावट के साथ ही कीमतों में भी होने वाली गिरावट से आमतौर पर लॉन्ग अनवाइंडिंग का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेंज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन जिन 4 शेयरों में सबसे ज्यादा लॉन्ग लॉन्ग अनवाइंडिंग देखने के मिली उनमें Can Fin Homes, Balkrishna Industries, Torrent Pharma और Bajaj Auto के नाम शामिल हैं।

29 स्टॉक्स में दिखा शॉर्ट बिल्ड-अप

ओपन इंटरेस्ट में बढ़त के साथ ही कीमतों में भी होने वाली गिरावट से आमतौर पर शॉर्ट बिल्ड-अप का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेंज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन जिन 29 शेयरों में सबसे ज्यादा शॉर्ट बिल्ड-अप देखने को मिला उनमें JSBI Cards and Payment Services, Metropolis Healthcare, AU Small Finance Bank, SRF और Zee Entertainment Enterprises के नाम शामिल हैं।

66 स्टॉक्स में दिखी शॉर्ट कवरिंग

ओपन इंटरेस्ट में गिरावट के साथ ही कीमतों में होने वाली बढ़त से आमतौर पर शॉर्ट कवरिंग का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेंज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन जिन 66 शेयरों में सबसे ज्यादा शॉर्ट कवरिंग देखने को मिली उनमें Petronet LNG, SBI Life Insurance Company, Federal Bank, Power Grid Corporation of India और Siemens के नाम शामिल हैं।

पुट कॉल रेशियो

निफ्टी पुट कॉल रेशियो (पीसीआर) इक्विटी बाजार के मूड का इंडीकेटर होता है। निफ्टी पुट कॉल रेशियो 29 जनवरी को बढ़कर 1.21 हो गया जो पिछले सत्र में 1.04 था। बता दें कि 1 के ऊपर का पीसीआर इस बात का संकेत होता है कि ट्रेडर्स कॉल की तुलना में पुट ऑप्शन ज्यादा खरीद रहे हैं, जो आम तौर पर मंदी की भावना में बढ़त का संकेत होता है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )