Trade setup for today : निफ्टी में और गिरावट की उम्मीद, मुनाफे वाले सौदे पकड़ने के लिए इन आंकड़ों पर रहे नजर

Trade setup for today : निफ्टी में और गिरावट की उम्मीद, मुनाफे वाले सौदे पकड़ने के लिए इन आंकड़ों पर रहे नजर

[ad_1]

Trade setup : 17 जनवरी के भारी केरक्शन के बाद मार्केट एक्सपर्ट्स को उम्मीद है कि आने वाले दिनों में निफ्टी में और गिरावट आएगी और इसे चालू महीने के निचले स्तर 21,450 पर सपोर्ट मिल सकता है। अगर ये स्तर टूट जाता है, तो अगला सपोर्ट 21,000 पर हो सकता है। जबकि ऊपर की तरफ इसके लिए 21,650 एक तत्काल रजिस्टेंस होने की उम्मीद है। इसके बाद 21,750-21,850 के जोन में अगला बड़ा रजिस्टेंस होगा।

17 जनवरी को मंदड़िये फुल एक्शन में दिखे जिससे बेंचमार्क इंडेक्सों में दो फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई, जो पिछले 19 महीनों में एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट थी। तिमाही नतीजों के बाद एचडीएफसी बैंक में तेज बिकवाली और कमजोर वैश्विक संकेतों से बाजार सेंटिमेंट पर निगेटिव असर पड़ा। बीएसई सेंसेक्स 1,628 अंक या 2.23 फीसदी गिरकर 71,501 पर बंद हुआ। जबकि निफ्टी 50 इंडेक्स 460 अंक गिरकर 21,572 पर सेटल हुआ था। निफ्टी ने डेली चार्ट पर लॉन्ग अपर शैडो के साथ बियरिश कैंडलस्टिक पैटर्न बनाया।

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के नागराज शेट्टी का कहना है कि एक बड़ा ओपनिंग डाउनसाइड गैप आंशिक रूप से भरा हुआ है। तकनीकी रूप से देखें तो बुधवार का पैटर्न डाउनसाइड पर एक बड़े रिवर्सल पैटर्न की ओर संकेत करता है। इसके साथ ही अधूरे ओपनिंग डाउनसाइड गैप को बियरिश ब्रेकअवे गैप के रूप में देखा जा सकता है। आम तौर पर, ऐसे बियरिश ब्रेकअवे गैप अहम टॉप रिवर्सल के पास बनते हैं।

इसलिए, नागराज शेट्टी को लगता है कि निफ्टी का शॉर्ट टर्म रुझान तेजी से मंदी के ओर हो गया है। उन्होंने कहा, “शॉर्ट टर्म में निफ्टी के 21,000 के अगले निचले सपोर्ट स्तर तक फिसलने की अधिक संभावना है। वहीं, किसी तेजी में इसके लिए 21,750-21,850 के स्तर के आसपास तत्काल रजिस्टेंस है।”

यहां आपको कुछ ऐसे आंकड़े दे रहे हैं जिनके आधार पर आपको मुनाफे वाले सौदे पकड़ने में आसानी होगी। यहां इस बात का ध्यान रखें कि इस स्टोरी में दिए गए ओपन इंटरेस्ट (OI)और स्टॉक्स के वॉल्यूम से संबंधित आंकड़े तीन महीनो के आंकड़ों का योग हैं, ये सिर्फ चालू महीने से संबंधित नहीं हैं।

Nifty के लिए की सपोर्ट और रजिस्टेंस लेवल

निफ्टी के लिए पहला रजिस्टेंस 21,600 और उसके बाद दूसरे बड़े रजिस्टेंस 21,844 और 21,959 पर स्थित हैं। अगर इंडेक्स नीचे की तरफ रुख करता है तो 21,543 फिर 21472 और 21,357 पर इसको सपोर्ट मिल सकता है।

21400 तक गिर सकता है निफ्टी, निवेशकों को नतीजों के मौसम में बाजार से दूर रहने की मिल रही सलाह

बैंक निफ्टी

निफ्टी बैंक के लिए पहला रजिस्टेंस 46,177 और उसके बाद दूसरे बड़े रजिस्टेंस 47,181 और 47,652 पर स्थित हैं। अगर इंडेक्स नीचे की तरफ रुख करता है तो 45,948 फिर 45,657 और 45,186 पर इसको सपोर्ट मिल सकता है।

कॉल ऑप्शन डेटा

वीकली बेसिस पर 21,800 की स्ट्राइक पर 1.39 करोड़ कॉन्ट्रैक्ट का अधिकतम कॉल ओपन इंटरेस्ट देखने को मिला है जो आगे आने वाले कारोबारी सत्रों में अहम रजिस्टेंस लेवल का काम करेगा। 21,800 की स्ट्राइक पर सबसे ज्यादा काल राइटिंग देखने को मिली। इस स्ट्राइक पर 1.27 करोड़ कॉन्ट्रैक्ट जुड़े। 22,600 की स्ट्राइक पर सबसे ज्यादा कॉल अनवाइंडिंग देखने को मिली।

पुट ऑप्शन डेटा

21,000 की स्ट्राइक पर 95.84 लाख कॉन्ट्रैक्ट का अधिकतम पुट ओपन इंटरेस्ट देखने को मिला है जो आने वाले कारोबारी सत्रों में अहम सपोर्ट लेवल का काम करेगा। 21,000 की स्ट्राइक पर पुट राइटिंग देखने को मिली। इस स्ट्राइक पर 34.06 लाख कॉन्ट्रैक्ट जुड़े। 22,000 की स्ट्राइक पर सबसे ज्यादा पुट अनवाइंडिंग देखने को मिली।

10 स्टॉक्स में दिखा लॉन्ग बिल्ड-अप

ओपन इंटरेस्ट में बढ़त के साथ ही कीमतों में भी होने वाली बढ़त से आमतौर पर लॉन्ग पोजीशन बनने का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन 10 शेयरों में लॉन्ग बिल्ड-अप देखने को मिला। इनमें Oracle Financial, BHEL, ICICI Lombard General Insurance Company, Apollo Hospitals Enterprise और Gujarat Gas के नाम शामिल हैं।

70 स्टॉक्स में दिखी लॉन्ग अनवाइंडिंग

ओपन इंटरेस्ट में गिरावट के साथ ही कीमतों में भी होने वाली गिरावट से आमतौर पर लॉन्ग अनवाइंडिंग का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेंज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन जिन 70 शेयरों में सबसे ज्यादा लॉन्ग लॉन्ग अनवाइंडिंग देखने के मिली उनमें Chambal Fertilisers & Chemicals, Aditya Birla Fashion & Retail, National Aluminium Company, BPCL और India Cements के नाम शामिल हैं।

80 स्टॉक्स में दिखा शॉर्ट बिल्ड-अप

ओपन इंटरेस्ट में बढ़त के साथ ही कीमतों में भी होने वाली गिरावट से आमतौर पर शॉर्ट बिल्ड-अप का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेंज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन जिन 80 शेयरों में सबसे ज्यादा शॉर्ट बिल्ड-अप देखने को मिला उनमें HDFC Bank, SAIL, Kotak Mahindra Bank, IDFC First Bank और Asian Paints के नाम शामिल हैं।

26 स्टॉक्स में दिखी शॉर्ट कवरिंग

ओपन इंटरेस्ट में गिरावट के साथ ही कीमतों में होने वाली बढ़त से आमतौर पर शॉर्ट कवरिंग का अंदाजा लगाया जाता है। ओपन इंटरेस्ट फ्यूचर परसेंटेंज के आधार पर पिछले कारोबारी दिन जिन 26 शेयरों में सबसे ज्यादा शॉर्ट कवरिंग देखने को मिली उनमेंL&T Technology Services, Metropolis Healthcare, Polycab India, Indian Oil Corporation, और SBI Life Insurance Company के नाम शामिल हैं।

पुट कॉल रेशियो

निफ्टी पुट कॉल रेशियो (पीसीआर) इक्विटी बाजार के मूड का इंडीकेटर होता है। निफ्टी पुट कॉल रेशियो 17 जनवरी को गिर 0.7 हो गया जो पिछले सत्र में 1.22 था। बता दें कि 1 के ऊपर का पीसीआर इस बात का संकेत होता है कि ट्रेडर्स कॉल की तुलना में पुट ऑप्शन ज्यादा खरीद रहे हैं, जो आम तौर पर मंदी की भावना में बढ़त का संकेत होता है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )