Technical View- निफ्टी ने बनाया बेयरिश कैंडल, 21,000 से नीचे फिसला तो और दिखेगी गिरावट

Technical View- निफ्टी ने बनाया बेयरिश कैंडल, 21,000 से नीचे फिसला तो और दिखेगी गिरावट

[ad_1]

Technical View- शुरुआती बढ़त को गंवाते हुए निफ्टी तेजी से नीचे गिरकर बंद हुआ। बैंक और फाइनेंशियल सर्विसेस के शेयर एक बार फिर बिकवाली के दबाव में आ गए। विश्लेषकों को बैंकिंग शेयरों के लिए त्वरित रिकवरी की उम्मीद नहीं है। इंडेक्स आज पॉजिटिव खुला और दिन के उच्चतम स्तर 21,750 पर पहुंच गया। जिसके बाद भारी बिकवाली हुई। इससे इंडेक्स दिन के निचले स्तर 21,193 पर फिसल गया। यह 333 अंक या 1.54 प्रतिशत की गिरावट के साथ 21,239 पर बंद हुआ। ये निफ्टी का 20 दिसंबर के बाद सबसे निचला स्तर है। इंडेक्स ने डेली चार्ट पर एक लॉन्ग बेयरिश कैंडलस्टिक पैटर्न बनाया। जो तेज डाउनवर्ड रिवर्सल का संकेत देता है।

यदि आने वाले सत्रों में इंडेक्स 21,000 अंक को तोड़ता है, तो करेक्शन 20,850 तक नजर आ सकता है। एक्सपर्ट्स ने कहा कि उच्च स्तर पर, 21,400-21,500 एक रेजिस्टेंस के रूप में कार्य कर सकता है।

24 जनवरी को कैसी रहेगी Nifty की चाल

HDFC Securities के नागराज शेट्टी ने कहा कि निफ्टी लोअर टॉप्ल और बॉटम्स जैसे मंदी के पैटर्न बना रहा है। इसने 21,750 पर एक नया लोअर टॉप बनाया है। यहां से इसमें अधिक कमजोरी की उम्मीद की जा सकती है।

अगला महत्वपूर्ण सपोर्ट निफ्टी में 20,950-20,850 के आसपास है और तत्काल रेजिस्टेंस 21,400 पर है।

मंथली ऑप्शन फ्रंट पर नजर डालें अधिकतम कॉल ओपन इंटरेस्ट 22,000 स्ट्राइक पर नजर आया। उसके बाद 21,700 स्ट्राइक और 21,500 स्ट्राइक पर दिखा। वहीं कॉल राइटिंग 21,300 स्ट्राइक पर फिर 21,400 स्ट्राइक पर दिखी।

पुट के आंकड़ों पर नजर डालें तो 20,500 स्ट्राइक में अधिकतम ओपन इंटरेस्ट देखने को मिला। इसके बाद 21,000 स्ट्राइक और 21,200 स्ट्राइक पर दिखा। इसमें 21,200 स्ट्राइक और फिर 20,800 स्ट्राइक पर राइटिंग देखने को मिली।

डेटा से संकेत मिलता है कि निफ्टी को 21,000 पर तत्काल सपोर्ट के साथ 21,300-21,50 पर रेजिस्टेंस का सामना करना पड़ सकता है।

24 जनवरी को कैसी रहेगी Bank Nifty की चाल

बैंक निफ्टी ने गिरावट में बड़ी भूमिका निभाई। इसके 12 में से 11 स्टॉक लाल निशान में बंद हुए। बैंकिंग इंडेक्स 1,043 अंक या 2.26 प्रतिशत गिरकर 45,015 पर आ गया। इसने डेली चार्ट पर एक बेयरिश कैंडलस्टिक पैटर्न बनाया।

इंडेक्स अपने 200-डे एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज 44,560 से लगभग 450 अंक दूर है। ये लेवल जो आगे की गिरावट के लिए अहम है।

LKP Securities के कुणाल शाह ने कहा, “मौजूदा सेंटीमेंट मौजूदा मंदी के नजरिये पर जोर देते हुए हम इसमें सेल ऑन राइज यानी कि उछाल पर बेचने की रणनीति का सुझाव देते हैं।”

बैंक निफ्टी में तत्काल रेजिस्टेंस 45,500 पर है। इस स्तर से ऊपर की ओर बढ़ने पर पोजीशन बेचने पर विचार करने का सही समय होगा।

इंडेक्स में निगेटिव तरफ अहम सपोर्ट 45,000-44,800 के स्तर पर है। उन्होंने कहा कि इस लेवल के टूटने से बिकवाली का दबाव बढ़ सकता है। इससे इंडेक्स 44,000 के अंक तक फिसल सकता है।

(डिस्क्लेमरः Moneycontrol.com पर दिए जाने वाले विचार और निवेश सलाह निवेश विशेषज्ञों के अपने निजी विचार और राय होते हैं। Moneycontrol यूजर्स को सलाह देता है कि वह कोई निवेश निर्णय लेने के पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट से सलाह लें।)

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )