Polycab India: आयकर विभाग की छापेमारी से बिगड़ा सेंटिमेंट, जेफरीज के बाद अब इस ब्रोकरेज ने घटाया शेयर का टारगेट प्राइस

Polycab India: आयकर विभाग की छापेमारी से बिगड़ा सेंटिमेंट, जेफरीज के बाद अब इस ब्रोकरेज ने घटाया शेयर का टारगेट प्राइस

[ad_1]

दिसंबर माह में आयकर विभाग ने केबल और वायर बनाने वाली पॉलीकैब इंडिया के 50 ठिकानों पर छापेमारी की थी। 10 जनवरी को विभाग ने कहा कि उसे 1000 करोड़ रुपये की बेहिसाब कैश बिक्री का पता चला है। इस छापेमारी की वजह से पॉलीकैब इंडिया के शेयर दबाव में हैं और सेंटिमेंट भी बिगड़ा हुआ है। हालांकि पॉलीकैब का कहना है कि उसे तलाशी के नतीजे के संबंध में आयकर विभाग से कोई सूचना नहीं मिली है, फिर भी ब्रोकरेज फर्म्स की ओर से शेयर के टारगेट प्राइस में कटौती की जा रही है। इस बीच वित्त वर्ष 2024 की तीसरी तिमाही अक्टूबर-दिसंबर में वित्तीय नतीजे उम्मीद के अनुरूप न रहने से भी शेयर में भरोसा घटा है।

पहले ग्लोबल फर्म जेफरीज ने पॉलीकैब इंडिया के शेयर के लिए टारगेट प्राइस घटाया और अब शेयरखान भी जेफरीज के साथ हो ली है। शेयरखान ने स्टॉक के लिए टारगेट प्राइस घटाकर 5510 रुपये प्रति शेयर कर दिया है। यह अभी भी बीएसई पर स्टॉक के पिछले बंद भाव से 21 प्रतिशत ज्यादा है। जेफरीज ने पॉलीकैब स्टॉक के लिए टारगेट प्राइस 7000 रुपये से घटाकर 5870 रुपये कर दिया है। हालांकि दोनों ही ब्रोकरेज फर्म्स ने स्टॉक के लिए ‘बाय’ कॉल को बरकरार रखा है।

शेयरखान ने अपनी रिसर्च रिपोर्ट में कहा है कि दिसंबर 2023 तिमाही में पॉलीकैब इंडिया का शुद्ध मुनाफा सालाना आधार पर 15.3 प्रतिशत बढ़कर 416.51 करोड़ रुपये हो गया। वायर्स और केबल्स का रेवेन्यू सालाना आधार पर 18 प्रतिशत बढ़कर 3873 करोड़ रुपये हो गया। लेकिन कंपनी का मार्जिन सालाना आधार पर 44 बीपीएस गिरकर 13.1 प्रतिशत पर आ गया। मजबूत सरकारी और निजी पूंजीगत व्यय को देखते हुए केबल्स व वायर सेगमेंट में मजबूत वॉल्यूम ग्रोथ जारी रहने की उम्मीद है। कमजोर उपभोक्ता मांग के बीच एफएमईजी कारोबार का प्रदर्शन ठीकठाक था, जिसके अगले 4 तिमाहियों में स्थिर होने की उम्मीद है।

शेयरखान का कहना है कि आयकर विभाग द्वारा कंपनी के कार्यालयों की हाल में ली गई तलाशी ने स्टॉक पर दबाव पैदा कर दिया है। इसलिए ब्रोकरेज स्टॉक के लिए टारगेट मल्टीपल को घटाकर 34 गुना कर रहा है और टारगेट प्राइस घटाकर 5510 रुपये प्रति शेयर किया जा रहा है। हालांकि पॉलीकैब इंडिया स्टॉक के लिए ‘बाय’ रेटिंग बरकरार रखी गई है।

पॉलीकैब इंडिया के शेयर ने अपने निवेशकों को पिछले एक साल में करीब 60 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। 20 जनवरी को कारोबार बंद होने पर शेयर 1.79 प्रतिशत की गिरावट के साथ 4334.95 रुपये पर सेटल हुआ।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Disqus ( )