Multibagger Stocks: IPO के बाद रिटर्न देने वाली मशीन बना ये बैंकिंग स्टॉक, 7 महीने में 160% से ज्यादा उछला

Multibagger Stocks: IPO के बाद रिटर्न देने वाली मशीन बना ये बैंकिंग स्टॉक, 7 महीने में 160% से ज्यादा उछला

[ad_1]

Multibagger Stocks: भारतीय शेयर बाजार में बैंकिंग स्टॉक्स हमेशा से फोकस में रहे हैं। इनमें अब लोगों की नजर स्मॉल फाइनेंस बैंकों की तरफ भी है। पिछले साल एक ऐसे ही स्मॉल फाइनेंस बैंक का IPO आया था, जिसके लिए लोगों ने हाथों हाथ आवेदन किए थे। वहीं अब इस स्मॉल फाइनेंस बैंक ने आईपीओ के बाद से अपने निवेशकों को शानदार रिटर्न दिया है। इसके साथ ही अब ये स्टॉक अपने 52 वीक हाई के करीब भी कारोबार करता हुआ दिखाई दे रहा है। वहीं अब तक सात महीने के अंदर ही शेयर के जरिए निवेशकों को डबल से भी ज्यादा का रिटर्न मिल चुका है। आइए जानते हैं इसके बारे में…

ये है बैंक

इसका नाम Utkarsh Small Finance Bank है। इन दिनों स्मॉल फाइनेंस बैंक में भी काफी ग्रोथ देखने को मिल रही है और कई आईपीओ भी स्मॉल फाइनेंस बैंक के आ रहे हैं। वहीं उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक का आईपीओ पिछले साल जुलाई में आया था। वहीं अपने इश्यू प्राइज से बैंक का शेयर प्राइज काफी ऊपर बढ़ चुका है। 23 रुपये से 25 रुपये के बीच इश्यू प्राइज वाले इस शेयर ने अपने निवेशकों को 100 फीसदी से भी ज्यादा का रिटर्न दिया है।

शेयर में तेजी

लिस्टिंग गेन के साथ ही निवेशकों ने इस स्टॉक से मल्टी फोल्ड रिटर्न हासिल किया है। जुलाई 2023 में लिस्ट होने के बाद ही शेयर के दाम 50 रुपये रुपये पहुंच गए थे, यानी की जुलाई में ही शेयर ने अपने निवेशकों का इंवेस्टमेंट डबल कर दिया था। अब 8 फरवरी 2024 को शेयर की कीमत NSE पर 3.50 रुपये (5.70%) की उछाल के साथ 64.95 रुपये पर बंद हुए हैं।

इतना दिया रिटर्न

शेयर में काफी उतार चढ़ाव भी बना हुआ लेकिन आईपीओ लिस्टिंग के बाद अब तक शेयर अपने निवेशकों को 160 फीसदी से भी ज्यादा का रिटर्न दे चुका है। वहीं इसका 52 वीक हाई 68.30 रुपये रहा है और इसका 52 वीक लो प्राइज 37.20 रुपये रहा है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दी गई राय एक्सपर्ट की निजी राय होती है। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए जिम्मेदार नहीं है। यूजर्स को मनीकंट्रोल की सलाह है कि निवेश से जुड़ा कोई भी फैसला लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Disqus ( )