Multibagger Stocks: महिंद्रा ग्रुप की इस ‘करोड़पति’ कंपनी का कमाल, ब्रोकरेज को फिर जरूरत पड़ गई रेटिंग की

Multibagger Stocks: महिंद्रा ग्रुप की इस ‘करोड़पति’ कंपनी का कमाल, ब्रोकरेज को फिर जरूरत पड़ गई रेटिंग की

[ad_1]

Multibagger Stocks: महिंद्रा ग्रुप की वेईकल कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयर आज मजबूत मार्केट सेंटिमेंट में भी मामूली बढ़त के साथ बंद हुए हैं। हालांकि लॉन्ग टर्म में इसने 85 हजार रुपये के निवेश पर करोड़पति बना दिया है तो शॉर्ट टर्म में भी ताबड़तोड़ रिटर्न दिया है। ब्रोकरेज के मुताबिक यह कंपनी कारोबार में ऐसे आगे बढ़ रही है कि इसकी फिर से रेटिंग करनी पड़ रही है। घरेलू ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल के मुताबिक मौजूदा लेवल से यह 22 फीसदी से भी अधिक उछल सकता है। इसके शेयर आज BSE पर 0.05 फीसदी की मामूली बढ़त के साथ 1642.25 रुपये के भाव (M&M Share Price) पर बंद हुए हैं। वहीं घरेलू इक्विटी बेंचमार्क इंडेक्स बीएसई सेंसेक्स 0.25 फीसदी की मजबूती के साथ 72026.15 पर बंद हुआ है।

₹85 हजार के निवेश पर बने करोड़पति

महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयर 17 जनवरी 2003 को मह 13.89 रुपये पर थे। अब यह 1642.25 रुपये पर है यानी कि 21 साल में महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयरों ने निवेशकों को 85 हजार रुपये के निवेश पर करोड़पति बना दिया। इसने सिर्फ लॉन्ग टर्म ही नहीं बल्कि शॉर्ट टर्म में भी शानदार कमाई कराई है। पिछले साल 28 मार्च 2023 को यह एक साल के निचले स्तर 1124 रुपये पर था। इस लेवल से 9 महीने में यह 56 फीसदी से अधिक उछलकर 29 दिसंबर 2023 को 1758 रुपये की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया। हालांकि शेयरों की तेजी यहीं थम गई। इस रिकॉर्ड हाई से फिलहाल यह 6 फीसदी से भी अधिक डाउनसाइड है।

एक तिहाई दौलत आ रही स्टॉक मार्केट से, NSE के सीईओ का बड़ा दावा, BitCoin पर साधा निशाना

M&M में अब आगे क्या है रुझान

घरेलू ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल ने महिंद्रा एंड महिंद्रा के कोर बिजनेस को तीन हिस्से में बांटा हुआ है-ट्रैक्टर, पिकअप यूवी और पैसेंजर यूवी। ये तीनों बिजनेस अपने-अपने कारोबार में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं और इसके चलते वित्त वर्ष 2023 में कंपनी का वॉल्यूम रिकॉर्ड लेवल पर रहा। ऑटो इंडस्ट्री को लेकर रुझान फिलहाल एमएंडएम के पक्ष में हैं। इसके अलावा कंपनी का फोकस नए मॉडल की लॉन्चिंग, कोर बिजनेस में हेल्दी मार्जिन विस्तार और बेहतरीन तरीके से कैपिटल एलोकशन पर है। इन सभी के दम पर कंपनी की कमाई वित्त वर्ष 2019 से वित्त वर्ष 2023 के बीच सालाना आधार पर 11 फीसदी के चक्रवृद्धि दर से बढ़ा। इसके अलावा ईवी कैटेगरी में नई लॉन्चिंग की उम्मीद है जिसके चलते फिर से इसके रेटिंग की जरूरत पड़ी।

Titan Q3 Update: ‘मंगलसूत्र’ कैंपेन से तगड़ा सपोर्ट, रेवेन्यू में 22% का उछाल

ब्रोकरेज के मुताबिक इसके कुछ वर्टिकल्स में ग्रोथ मॉडेरेट रहेगी लेकिन महिंद्रा एंड महिंद्रा अब भी अंडरलाइंग सेगमेंट्स से बेहतर प्रदर्शन के लिए मजबूत स्थिति में है। इसके चलते वित्त वर्ष 2023 से वित्त वर्ष 2026 के बीच कंपनी का रेवेन्यू सालाना 12.5 फीसदी, EBITDA करीब 15 फीसदी और शुद्ध मुनाफा 17 फीसदी की चक्रवृद्धि दर से बढ़ा। ब्रोकरेज के मुताबिक महिंद्रा एंड महिंद्रा का कोर P/E वित्त वर्ष 2024 के EPS के हिसाब से 18.1 गुना और वित्त वर्ष 2025 के हिसाब से 16.4 गुने पर है जो पियर्स के मुकाबले आकर्षक बना हुआ है। ऐसे में ब्रोकरेज ने 2जनवरी 2024 की अपनी रिपोर्ट में 2005 रुपये के टारगेट प्राइस पर इसकी खरीदारी की रेटिंग बरकार रखा हुआ है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए सलाह या विचार एक्सपर्ट/ब्रोकरेज फर्म के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदायी नहीं है। यूजर्स को मनीकंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले हमेशा सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Disqus ( )