Market outlook: सेंसेक्स-निफ्टी में आई गिरावट की सुनामी, जानिए 18 जनवरी को कैसी रह सकती है इनकी चाल

Market outlook: सेंसेक्स-निफ्टी में आई गिरावट की सुनामी, जानिए 18 जनवरी को कैसी रह सकती है इनकी चाल

[ad_1]

Stock market : आज 17 जनवरी को बाजार में पिछले 1.5 साल में सबसे बड़ी एक दिन की गिरावट देखने को मिली है। इस गिरावट में निफ्टी 21,600 के नीचे आ गया है। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 1,628.01 अंक या 2.23 फीसदी गिरकर 71,500.76 पर बंद हुआ है। वहीं, निफ्टी 460.30 अंक या 2.09 फीसदी नीचे 21,572 पर बंद हुआ है। आज लगभग 998 शेयर बढ़े हैं। वहीं, 2238 शेयर गिरे हैं। जबकि 50 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्सों में 1 फीसदी की गिरावट आई है।

निफ्टी के सबसे ज्यादा पिटने वाले शेयरों में एचडीएफसी बैंक, टाटा स्टील, कोटक महिंद्रा बैंक, एक्सिस बैंक और हिंडाल्को इंडस्ट्रीज रहे। जबकि एचसीएल टेक्नोलॉजीज, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस, इंफोसिस, एलटीआईमाइंडट्री और टीसीएस निफ्टी के टॉप गेनर रहे।

सेक्टोरल इंडेक्सों पर नजर डालें तो आईटी को छोड़कर दूसरे सभी इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए। बैंक इंडेक्स 4 फीसदी नीचे और ऑटो, मेटल, तेल और गैस रियल्टी 1-2 फीसदी नीचे बंद हुए।

18 जनवरी को कैसी रह सकती है बाजार की चाल

प्रोग्रेसिव शेयर्स के निदेशक आदित्य गग्गर का कहना है कि मंदड़ियों ने पूरी ताकत से पलटवार किया और आज के कारोबार पर हावी हो गए। बिना किसी बड़े उतार-चढ़ाव के इंडेक्स अपने घाटे को बढ़ाता रहा। कारोबार के अंत में निफ्टी 460.35 अंकों के नुकसान के साथ 21,571.95 पर बंद हुआ। ब्रॉडर मार्केट में भी करेक्शन दिखा लेकिन मिड और स्मॉलकैप, फ्रंटलाइन इंडेक्स से बेहतर प्रदर्शन करने में कामयाब रहे।

निगेटिव डाइवर्जेंस की पुष्टि करके इंडेक्स ने 21,220 के स्तर पर एक एडवांस्ड हार्मोनिक बुलिश साइफर पैटर्न बनाने की संभावना के साथ डेली चार्ट पर एक बियरिश कैंडल बनाई है।

आज बैंकिंग शेयरों की सबसे ज्यादा पिटाई हुई। बैंक निफ्टी में हेड एंड शोल्डर फॉर्मेशन से ब्रेकडाउन देखने को मिला है। इस पैटर्न के मुताबिक बैंक निफ्टी का डाउनसाइड टारगेट 45,500 पर आता है। आज की भारी गिरावट को देखते हुए, बाजार में राहत भरी तेजी की उम्मीद की जा सकती है, लेकिन क्या बाजार ऊपरी स्तरों पर टिक पाता है ये देखने को बात होगी।

बजट में बाजार के लिए नहीं होगा कुछ खास, आईटी शेयर में दिख रही रिकवरी की उम्मीद

एलकेपी सिक्योरिटीज के रूपक डे का कहना है किपिछले कारोबारी सत्र में 22,124 के रिकॉर्ड उच्च स्तर के बाद मुनाफावसूली के कारण निफ्टी में बड़ी गिरावट देखी गई। बुधवार की मुनाफावसूली ने सूचकांक को 21-डे एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज तक पहुंचा दिया, जो एक बड़ा शॉर्ट टर्म मूविंग एवरेज है। अगर निफ्टी 21,550 से नीचे चला जाता है तो और गिरावट आएगी। अगर निफ्टी 21,550 के नीचे जाता है तो फिर इसमें 21,350 तक की गिरावट आ सकता है। इसके विपरीत ऊपर की ओर निफ्टी के लिए 21,650 पर रजिस्टेंस दिख रहा है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Disqus ( )