Market outlook : बढ़त के साथ बंद हुआ बाजार, जानिए 20 जनवरी को कैसी रह सकती है इसकी चाल

Market outlook : बढ़त के साथ बंद हुआ बाजार, जानिए 20 जनवरी को कैसी रह सकती है इसकी चाल

[ad_1]

Stock Market:लगातार दो दिनों की गिरावट के बाद बाजार आज बढ़त के साथ बंद हुआ है। निफ्टी 21,600 के पार बंद हुआ है। कारोबार के अंत में, सेंसेक्स 496.37 अंक या 0.70 फीसदी बढ़कर 71,683.23 पर और निफ्टी 160.10 अंक या 0.75 फीसदी की तेजी लेकर 21,622.40 पर बंद हुआ है। लगभग 2183 शेयर बढ़े हैं। 1043 शेयर गिरे हैं और 62 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। ओएनजीसी, भारती एयरटेल, एनटीपीसी, टेक महिंद्रा और एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस निफ्टी के टॉप गेनर रहे। जबकि इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, डिविस लैब और अदानी पोर्ट्स निफ्टी के टॉप लूजर रहे।

आज सभी सेक्टोरल इंडेक्स हरे निशान में बंद हुए हैं। ऑटो, कैपिटल गुड्स, आईटी, एफएमसीजी, मेटल, तेल और गैस और पावर में 1-2 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है। बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्सों में 1 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के विनोद नायर का कहना है कि ‘गिरावट पर खरीदारी’ और अच्छे ग्लोबल संकेतों के चलते बाजार में रिकवरी आई। आज की रिकवरी बड़े आधार वाली थी। हालांकि, निवेशक निराश हैं और रैली में नरमी की उम्मीद कर रहे हैं। एफआईआई जोखिम से बचते दिख रहे हैं। ब्याज दरें कम नहीं होने की संभावना के चलते बाजार पर दबाव बढ़ा है। अब तक आए Q3 नतीजों से घरेलू आय में सुस्त ग्रोथ की संभावना दिख रही। ऐसे में सेक्टर रोटेशन के आगे बढ़ने की संभावना है।

एचडीएफसी बैंक के नतीजे पूरे बैंकिंग सेक्टर के लिए बुरे नहीं, इस गिरावट में मिल रहा सबसे बेहतर दांव खेलने का मौका

रेलिगेयर ब्रोकिंग के अजीत मिश्रा का कहना है कि 3 दिन की गिरावट के बाद बाजार में थोड़ी राहत देखने को मिली। बाजार में 0.50 फीसदी से ज्यादा की तेजी आई। मजबूत वैश्विक संकेतों के कारण निफ्टी में तेजी की शुरुआत हुई, जिसके बाद अंत तक सीमित दायरे में उतार-चढ़ाव देखने को मिला। निफ्टी ने अपने शॉर्ट टर्म मूविंग एवरेज को फिर से हासिल कर लिया है लेकिन इसमें मजबूती का अभाव है। बैंकिंग के मौजूदा खराब प्रदर्शन देखते हुए बाजार में सतर्क रहने की जरूरत है। अब निफ्टी के लिए 21,700-21,850 के जोन में रजिस्टेंस दिख रहा है। ट्रेडर्स को स्टॉक-विशेष नजरिया जारी रखना चाहिए और हेज्ड ट्रेडों को प्राथमिकता देनी चाहिए।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Disqus ( )