Market outlook: बढ़त के साथ बंद हुआ बाजार, जानिए 5 फरवरी को कैसी रह सकती है इसकी चाल

Market outlook: बढ़त के साथ बंद हुआ बाजार, जानिए 5 फरवरी को कैसी रह सकती है इसकी चाल

[ad_1]

Market outlook: 02 फरवरी के उतार-चढ़ाव भरे कारोबारी सत्र में बेंचमार्क इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुए और निफ्टी 21,850 के आसपास कारोबार करता दिखा। कारोबार अंत में, सेंसेक्स 440.33 अंक या 0.61 फीसदी बढ़कर 72,085.63 पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 156.30 अंक या 0.72 फीसदी की तेजी लेकर 21,853.80 पर बंद हुआ। आज लगभग 1759 शेयर बढ़े, 1469 शेयर गिरे और 67 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ। बीएसई मिडकैप इंडेक्स 0.8 फीसदी और स्मॉलकैप इंडेक्स 0.5 फीसदी बढ़ा है।

बीपीसीएल, पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन, ओएनजीसी, अदानी पोर्ट्स और एनटीपीसी आज निफ्टी के टॉप गेनर रहे जबकि आयशर मोटर्स, एक्सिस बैंक, एचडीएफसी लाइफ, एचडीएफसी बैंक और एचयूएल निफ्टी के टॉप लूजर रहे। अलग-अलग सेक्टोरल इंडेक्सों की बात करें तो तेल और गैस इंडेक्स 4 फीसदी ऊपर और आईटी, मेटल, रियल्टी और पॉवर इंडेक्स 1-2 फीसदी ऊपर बंद हुए हैं। जबकि बैंक इंडेक्स 0.5 फीसदी नीचे बंद हुआ है।

साप्ताहिक आधार पर देखें तो इस हफ्ते बाजार ने लगातार दो हफ्तों की कमजोरी का क्रम तोड़ दिया और 2 महीनों रिकॉर्ड वीकली हाई पर बंद हुआ है। इस हफ्ते सेंसेक्स-निफ्टी 2 फीसदी भागे हैं। वहीं, बैंक निफ्टी में 2.4 फीसदी की तेजी आई है। जबकि, निफ्टी मिडकैप इंडेक्स 2.6 फीसदी भागा है। मीडिया को छोड़कर, सभी सेक्टोरल इंडेक्सों में बढ़त दर्ज की गई है। पीएसयू बैंक इंडेक्स टॉप पर रहा है।

5 फरवरी को कैसी रह सकती है बाजार की चाल

एलकेपी सिक्योरिटीज के रूपक डे का कहना है कि शुक्रवार के कारोबारी सत्र के पहले आधे भाग के दौरान निफ्टी 22,000 अंक को पार कर गया, लेकिन बाद में ऑवरली चार्ट पर डबल टॉप पर पहुंच गया। तेजी के ट्रेंड की बहाली की पुष्टि केवल तभी होगी जब डबल टॉप (22,125 के आसपास स्थिति) के ऊपर एक निर्णायक ब्रेकआउट आएगा। वहीं, अगर निफ्टी 21,500 के सपोर्ट के नीचे चला जाता है तो गिरावट बढ़ जाएगी। जबकि 22,150 से ऊपर के ब्रेकआउट के बाद निफ्टी के लिए 22,500 और उससे आगे का रास्ता साफ हो जाएगा।

Budget 2024 : बजट एलानों ने इन तीन सरकारी पावर कंपनियों में भरा जोश, क्या आपके पोर्टफोलियो में हैं शामिल

शेयरखान के जतिन गेडिया का कहना है कि निफ्टी आज तेजी के साथ खुला और 22126.80 के नए ऑलटाइम हाई छू लिया। हालांकि, इसके बाद तेज बिकवाली आई। इसने निफ्टी को 21200 – 21900 की बड़ी रेंज में फिर से ढ़केल दिया।

डेली और ऑवरली मोमेंटम इंडीकेटर अलग-अलग संकेत दे रहे हैं जिससे पता चलता है निफ्टी एक दायरे में अटका हुआ। बोलिंगर बैंड भी रेंज बाउंड एक्शन का संकेत देते हुए सिकुड़ रहे हैं। इस तरह तमाम पैरामीटर ये संकेत दे रहें हैं कि बाजार में कंसोलीडेशन जारी रहने की संभावना है। इस कंसोलीडेशन के दौरान स्टॉक विशेष एक्शन और सेक्टर रोटेशन जारी रहने की उम्मीद है। निफ्टी के लिए 21660 – 21600 पर सपोर्ट और 22100 – 22150 पर रजिस्टेंस दिख रहा है।

बैंक निफ्टी में 46900 – 47000 के जोन में बिकवाली का दबाव देखने को मिला जो कि 48636 – 44429 तक देखी गई पूरी गिरावट के 61.82 फीसदी फाइबोनैचि रिट्रेसमेंट लेवल के साथ मेल खाता है। शॉर्ट टर्म में बैंक निफ्टी के 47000 – 45500 के रेंज में कंसोलीडेशन होने की उम्मीद दिख रही है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Disqus ( )