Jio Financial की होगी म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में एंट्री, BlackRock के साथ मिलकर किया अप्लाई

Jio Financial की होगी म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में एंट्री, BlackRock के साथ मिलकर किया अप्लाई

[ad_1]

Mutual Fund News: म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में और भी प्लेयर की एंट्री हो सकती है। जियो फाइनेंशियल सर्विसेज और ब्लैकरॉक फाइनेंशियल मैनेजमेंट ने बाजार नियामक सेबी के पास इसके लिए आवेदन किया है। जियो फाइनेंशियल और ब्लैकरॉक (Jio Financial-BlackRock) ने भारत में म्यूचुअल फंड बिजनेस लॉन्च करने के लिए SEBI के पास पेपर्स जमा कर दिए हैं। 31 दिसंबर 2023 को म्यूचुअल फंड एप्लीकेशन की अपडेटेड लिस्ट के मुताबिक दोनों कंपनियों ने ज्वाइंट वेंचर के रूप में 19 अक्टूबर 2023 को यह आवेदन किया था। अभी इस प्रस्ताव पर सेबी ने कोई फैसला नहीं लिया है। ब्लैकरॉक एसेट मैनेजर्स दुनिया का सबसे बड़ा फंड हुआ है। पहले यह डीएसपी ब्लैकरॉक के रूप में उपस्थित था लेकिन डीएसपी और ब्लैकरॉक 2018 में अलग हो गए थे। अब इसने एक बार फिर से जियो फाइनेंशियल सर्विसेज के साथ मार्केट में एंट्री मारी है।

और भी कंपनियां हैं कतार में

जियो फाइनेंशियल-ब्लैकरॉक के अलावा अबीरा सिक्योरिटीज ने म्यूचुअल फंड लाइसेंस के लिए फिर से आवेदन किया है। अबीरा सिक्योरिटीज कोलकाता की एक स्टॉक ब्रोकिंग हाउस है जो 2012 में शुरू हुई थी। अबीरा सिक्योरिटीज ने इससे पहले अप्रैल 2022 में म्यूचुअल फंड लाइसेंस के लिए आवेदन किया था, लेकिन बाद की सूचियों में उसका नाम गायब था। इसके अलावा एंजेल वन (Angel One) को पिछले साल 8 फरवरी 2023 को पहले ही सेबी से सैद्धांतिक मंजूरी मिल गई थी लेकिन फाइनल रजिस्ट्रेशन पर सेबी ने अभी मंजूरी नहीं दी है।

इन सबके अलावा सेबी ने इस साल की शुरुआत में केनेथ एंड्राडे (Kenneth Andrade) के ओल्ड ब्रिज कैपिटल मैनेजमेंट को सेबी से फाइनल अप्रूवल मिल चुका है। नवंबर में पोर्टफोलियो मैनेजमेंट फर्म Unifi Capital Pvt Ltd को सेबी से म्यूचुअल फंड कारोबार के लिए सैद्धांतिक रूप से मंजूरी मिल चुकी है और अभी यह सेबी के फाइनल अप्रूवल का इंतजार कर रही है।

Adani Ports में टॉप लेवल पर बड़ा बदलाव, Gautam Adani संभालेंगे अब यह जिम्मेदारी

पिछले साल तीन नए फंड हाउस आए Mutual Fund Industry में

भारतीय म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में काफी कॉम्पटीशन है और अभी इसमें 45 प्लेयर्स हैं। यह 50 लाख करोड़ रुपये से अधिक का मार्केट है यानी इस समय म्यूचुअल फंड 50 लाख करोड़ रुपये से अधिक का फंड मैनेज कर रहे हैं। पिछले साल 2023 में तीन नए फंड हाउस ने म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में एंट्री मारी थी। बजाज फिनसर्व एसेट मैनेजमेंट ने जून में अपनी पहली स्कीम लॉन्च की थी। समीर अरोड़ा के हेलिओस म्यूचुअल फंड ने अक्टूबर में और जीरोधा फंड हाउस ने दो योजनाएं लॉन्च की थी। हेलिओस और बजाज फिनसर्व एक्टिवली मैनेज्ड फंड्स लॉन्त करेंगे जबकि जीरोधा फंड हाउस ने पैसिव नजरिया अपनाया है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल, नेटवर्क18 ग्रुप का हिस्सा है। नेटवर्क18 का नियंत्रण इंडिपेंडेट मीडिया ट्रस्ट करता है, जिसकी एकमात्र लाभार्थी रिलायंस इंडस्ट्रीज है।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )