IT Stocks : इंफोसिस तीसरी बार कर सकता है रेवेन्यू गाइडेंस में कटौती, कल आएंगे TCS और Infy के नतीजे

IT Stocks : इंफोसिस तीसरी बार कर सकता है रेवेन्यू गाइडेंस में कटौती, कल आएंगे TCS और Infy के नतीजे

[ad_1]

IT Stocks : तीसरी तिमाही के नतीजों का सीजन शुरु हो चुका है। कल दिग्गज IT कंपनियों, TCS और इंफोसिस (INFOSYS) के नतीजे आएंगे। कल 11 जनवरी को दोपहर 03:45 बजे के आसपास इंफोसिस के नतीजे आने की उम्मीद है और टीसीएस की प्रेस कॉन्फ्रेंस शाम 05:30 बजे होनी है। कैसे रह सकते हैं इन दोनों आईटी दिग्गजों के नतीजे ये बताते हुए सीएनबीसी-आवाज़ के आशीष वर्मा ने कहा कि एनालिस्ट्स को तीसरी तिमाही से खास उम्मीदें नहीं हैं। इस अवधि में आईटी कंपनियों की मांग में कमजोरी देखने को मिल सकती है। वैसे भी तीसरी तिमाही आईटी सेक्टर के लिए कमजोर मानी जाती है।

मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि तीसरी तिमाही में TCS और इंफोसिस के मार्जिन पर वेतन बढ़ोतरी का असर देखने को मिल सकता है। जिससे इनके मार्जिन पर दबाव रह सकता है। इनका मनना है कि कंपनियों के मैनेजमेंट की सतर्क कमेंट्री का सिलसिला तीसरी तिमाही में भी कायम रहेगा। बताते चलें की आईटी इंडेक्स ने 1 साल में 22 फीसदी रिटर्न दिया है। वहीं, TCS ने इस अवधि में 13 फीसदी और इंफोसिस ने 3.5 फीसदी रिटर्न दिया है।

क्या है एक्सपर्ट का अनुमान

एक्सपर्ट का अनुमान का अनुमान है कि 31 दिसंबर 2023 के खत्म हुई वित्त वर्ष 2023-24 की तीसरी तिमाही में TCS की डॉलर में होने वाली कमाई 0.2 फीसदी घटकर 719.5 करोड़ डॉलर रह सकती है। वहीं, इंफोसिस की डॉलर में होने वाली कमाई 1.8 फीसदी घटकर 463.4 करोड़ डॉलर रह सकती है।

इस अवधि में TCS की कॉस्टेंट करेंसी रेवेन्यू ग्रोथ -1 फीसदी से +0.7 फीसदी के बीच रह सकती है। वहीं, इंफोसिस की कॉस्टेंट करेंसी रेवेन्यू ग्रोथ में 1.6 फीसदी की गिरावट आ सकती है। तीसरी तिमाही में TCS की मार्जिन 24.26 फीसदी से बढ़कर 24.35 फीसदी पर और इंफोसिस की मार्जिन 21.2 फीसदी से घटकर 20.4 फीसदी पर रह सकती है।

Market outlook : बाजार में लगातार तीसरे दिन रही तेजी, जानिए कल कैसी रह सकती है इसकी चाल

 Q3 में इंफोसिस तीसरी बार कर सकता है रेवेन्यू गाइडेंस में कटौती 

बाजार जानकारों का मानना है कि Q3 में इंफोसिस तीसरी बार रेवेन्यू गाइडेंस में कटौती कर सकता है। कंपनी का मौजूदा रेवेन्यू गाइडेंस 1–2.5 फीसदी है इसको घटाकर 1 –2 फीसदी किया जा सकता है। पहली बार कंपनी ने ये गाइडेंस 4–7 फीसदी घटा कर से 1 – 3.5 फीसदी किया था। दूसरी बार इसको 1 –3.5 फीसदी से घटाकर 1 –2.5 फीसदी किया गया था। वहीं, कंपनी के मार्जिन गाइडेंस को 20 –22 फीसदी पर बरकरार रहने की उम्मीद है।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )