HDFC Bank की सेफ्टी नहीं आई काम, Mid-cap और Small-Cap फंड्स को लगा तगड़ा झटका

HDFC Bank की सेफ्टी नहीं आई काम, Mid-cap और Small-Cap फंड्स को लगा तगड़ा झटका

[ad_1]

सबसे अधिक मार्केट कैप वाले बैंक HDFC Bank के शेयरों की हालत इस समय अच्छी नहीं चल रही है और लगातार दो दिनो में यह 11 फीसदी से अधिक टूट गया। एचडीएफसी बैंक में गिरावट का झटका न सिर्फ इक्विटी बेंचमार्क इंडेक्स Sensex-Nifty और बैंक निफ्टी (Bank Nifty) को लगा बल्कि जितने म्यूचुअल फंड्स ने इसमें पैसे लगाए हैं, उन्हें भी जोरों का झटका लगा है। दिसंबर 2023 तक के आंकड़ों के मुताबिक कुल 532 इक्विटी ओरिएंटेड म्यूचुअल फंड स्कीमों का पैसा इस बैंक में लगा है जिसमें से 422 तो एक्टिव तरीके से मैनेज होते हैं।

HDFC Bank पर कितना बड़ा है दांव

दिसंबर 2023 तक के आंकड़ों के हिसाब से ओवरऑल इक्विटी एयूएम (एसेट अंडर मैनेजमेंट) 31.5 लाख करोड़ रुपये का है जिसमें से करीब 7 फीसदी यानी 2.18 लाख करोड़ रुपये सिर्फ एचडीएफसी बैंक में ही लगे हैं। इसमें से एक्विट तरीके से मैनेज होने वाले फंड्स की हिस्सेदारी 64 फीसदी है। एचडीएफसी बैंक में सिर्फ लॉर्ज कैप फंड्स का ही पैसा नहीं लगा है बल्कि स्मॉल और मिड-कैप फंड्स ने भी इसमें पैसे लगाए हैं। मिड-कैप और स्मॉल कैप फंड्स के पास 45 फीसदी फंड लॉर्ज कैप स्टॉक्स में लगाने की जगह रहती है। 8 मिडकैप और 4 स्मॉल कैप फंड्स ने एचडीएफसी बैंक में पैसे लगाए हैं। बैंक के शेयरों में गिरावट के चलते 17 जनवरी को यानी एक ही दिन में जब यह 8 फीसदी से अधिक टूटा था तो इनका NAV (नेट एसेट वैल्यू) 0.6 से 1.4 फीसदी तक गिर गया।

Adani Group के बाद अब ITC पर निगाहें, GQG ने और बढ़ा ली अपनी हिस्सेदारी

पैसे लगाने वाले टॉप मिड-कैप और स्मॉल-कैप फंड्स

पहले मिडकैप फंड की बात करें तो PGIM इंडिया मिडकैप अपॉच्यूनिटीज फंड का 2.4 फीसदी पैसा एचडीएफसी बैंक में लगा है और 17 जनवरी को इसकी एनएवी 1.2 फीसदी फिसली था। केनरा रोबेको मिडकैप फंड का एक्सपोजर 2.2 फीसदी है और इसका एनएवी 0.6 फीसदी गिरी थी। वहीं 2.1 फीसदी एक्सपोजर वाले फ्रैंकलिन इंडिया प्राइमा फंड की एनएवी कल यानी 17 जनवरी को 1.2 फीसदी गिरी थी। एचडीएफसी बैंक में 1.5 फीसदी एक्सपोजर वाले मिरे एसेट मिडकैप फंड की एनएवी 1.4 फीसदी, 1.5 फीसदी एक्सपोजर वाले एक्सिस मिडकैप फंड की एनएवी 0.9 फीसदी और 1.5 फीसदी एक्सपोजर वाले निप्पन इंडिया ग्रोथ फंड की एनएवी 1.1 फीसदी कम हुई थी।

World Cup में इन सेक्टर पर जमकर बरसा पैसा, BCCI से सबसे बड़ा चेक मिला इस कंपनी को

अब स्मॉल कैप फंड की बात करें तो निप्पन इंडिया स्मॉल कैप फंड का एक्सपोजर एचडीएफसी बैंक में 1.9 फीसदी है और कल इसकी एनएवी 0.9 फीसदी कम हुई थी। फ्रैंकलिन इंडिया स्मॉलर कंपनीज फंड का एक्सपोजर 1.6 फीसदी है और इसकी एनएवी एक ही दिन में 1 फीसदी कम हुई थी। 1.5 फीसदी के एक्सपोजर वाले सुंदरम स्मॉल कैप फंड की एनएवी 1% और 1.4 फीसदी एक्सपोजर वाले क्वांटम स्मॉल कैप फंड की एनएवी 0.8 फीसदी कम हुई थी।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Disqus ( )