Gujarat Toolroom: एक साल में स्टॉक्स 350% उछला, नेट प्रॉफिट में 500% की तेजी, निवेशकों को मिली छप्परफाड़ कमाई

Gujarat Toolroom: एक साल में स्टॉक्स 350% उछला, नेट प्रॉफिट में 500% की तेजी, निवेशकों को मिली छप्परफाड़ कमाई

[ad_1]

Gujarat Toolroom Limited: एक साल में ही अगर कोई शेयर बढ़िया रिटर्न दे जाए तो लोगों को काफी खुशी मिलती है। वहीं शेयर मार्केट में ऐसे कई शेयर हैं, जिन्होंने एक साल में ही अपने निवेशकों को तगड़ा रिटर्न दिया है। इनमें Gujarat Toolroom भी शामिल है। Gujarat Toolroom ने एक साल में ही अपने निवेशकों को मालामाल कर दिया है और 300% से ज्यादा का रिटर्न दिया है। इसके साथ ही कंपनी ने हाल ही में अपने तिमाही नतीजे भी जारी किए हैं। इसमें कंपनी के रेवेन्यू में इजाफा देखने को मिला है।

शेयर में तेजी

एक साल पहले कंपनी के शेयर की कीमत 10 रुपये के करीब थी लेकिन अब शेयर की कीमत 50 रुपये के भी पार जा चुकी है। 16 फरवरी 2023 को शेयर की क्लोजिंग कीमत 10.49 रुपये थी। वहीं 16 फरवरी 2024 को शेयर ने 53.75 रुपये के भाव पर क्लोजिंग दी है। इसके साथ ही शेयर में 369% से ज्यादा का उछाल देखने को मिला है। शेयर का 52 वीक लो प्राइज जहां 8.92 रुपये है तो वहीं इसका 52 वीक हाई प्राइज 62.28 रुपये है।

तिमाही नतीजे

औद्योगिक और खनन क्षेत्रों में एक प्रमुख खिलाड़ी गुजरात टूलरूम लिमिटेड (जीटीएल) ने हाल ही में दिसंबर 2023 के लिए अपने तिमाही परिणाम जारी किए हैं। तिमाही नतीजों से जीटीएल के मजबूत वित्तीय प्रदर्शन का पता चलता है। वित्त वर्ष 2023-24 की तीसरी तिमाही में कंपनी के स्टैंडअलोन रिजल्ट के तहत नेट सेल्स 72.73 फीसदी बढ़कर 57.97 करोड़ रुपये हो गई है। इसके साथ ही पिछले वित्त वर्ष में कंपनी की नेट सेल्स समान तिमाही में 33.56 करोड़ रुपये थी।

प्रॉफिट में उछाल

वहीं तिमाही नेट प्रॉफिट में 519.37% का उछाल देखने को मिला है। इस वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में नेट प्रॉफिट 3.99 करोड़ रुपये हो गया है, जो कि पिछले साल की समान तिमाही में 0.64 करोड़ रुपये था। EBITDA 731.25% बढ़कर 5.32 करोड़ रुपये हो गया है। जो कि पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 0.64 करोड़ रुपये था। वहीं EPS पिछले साल की समान तिमाही में 1.16 रुपये था जो कि इस वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में गिरकर 0.72 रुपये हो गया है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दी गई राय एक्सपर्ट की निजी राय होती है। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए जिम्मेदार नहीं है। यूजर्स को मनीकंट्रोल की सलाह है कि निवेश से जुड़ा कोई भी फैसला लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )