FPI लगातार खरीद रहे हैं भारतीय शेयर, जनवरी के पहले सप्ताह में लगाए ₹4800 करोड़

FPI लगातार खरीद रहे हैं भारतीय शेयर, जनवरी के पहले सप्ताह में लगाए ₹4800 करोड़

[ad_1]

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI or Foreign Portfolio Investors) की भारतीय शेयर बाजारों में दिलचस्पी बनी हुई है। FPI ने जनवरी 2024 के पहले सप्ताह में शेयर बाजारों में करीब 4800 करोड़ रुपये डाले हैं। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार, इस अवधि में FPI ने डेट या बॉन्ड बाजार में भी 4000 करोड़ रुपये लगाए हैं। चूंकि अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व यह संकेत दे चुका है कि वह 2024 में प्रमुख ब्याज दरों में 3 कटौती करेगा, ऐसे में अमेरिकी बॉन्ड की यील्ड में गिरावट आएगी। लिहाजा भारत जैसे उभरते बाजारों में FPI की ओर से निवेश जारी रहने की उम्मीद है।

भारतीय अर्थव्यवस्था में मजबूती ​दर्शाते आंकड़े, कंपनियों के अच्छे तिमाही ​नतीजे और देश में राजनीतिक अस्थिरता की आशा जैसे फैक्टर्स भी उन्हें आकर्षित कर रहे हैं। कहा जा रहा है कि आम चुनावों से पहले 2024 के शुरुआती महीनों में भारतीय शेयर बाजार में उनका निवेश बढ़ेगा। साथ ही डेट मार्केट में भी अच्छा निवेश किए जाने की उम्मीद है।

आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने इस महीने 5 जनवरी तक भारतीय शेयरों में 4773 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया है। इससे पहले दिसंबर में उन्होंने शेयरों में 66,134 करोड़ रुपये और नवंबर में 9,000 करोड़ रुपये डाले थे।

Multibagger Stock: 4 साल में दिया 9600% से ज्यादा रिटर्न, ₹20000 के बना दिए ₹19.40 लाख

2023 में पूंजी बाजार में लगाए 2.4 लाख करोड़

वर्ष 2023 में FPI ने शेयरों में शुद्ध रूप से 1.71 लाख करोड़ रुपये और डेट या बॉन्ड बाजार में 68,663 करोड़ रुपये डाले। इस प्रकार पूंजी बाजार में उनका कुल निवेश 2.4 लाख करोड़ रुपये रहा है। साल 2023 की शुरुआत FPIs ने आउटफ्लो के साथ की थी। साल के पहले दो माह जनवरी, फरवरी में उन्होंने भारतीय शेयरों से 34,000 करोड़ रुपये निकाले। उसके बाद मार्च से लेकर अगस्त माह तक FPIs नेट बायर बने रहे और इस बीच 1.74 लाख करोड़ रुपये लगाए। उसक बाद FPIs की दिलचस्पी एक बार फिर भारतीय इक्विटी में घटी और उन्होंने सितंबर में 14,767 करोड़ रुपये और अक्टूबर में 24,548 करोड़ रुपये भारतीय शेयर बाजारों से निकाले। लेकिन नवंबर से FPIs ने फिर से निवेश शुरू किया।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )