Dalal Street Week Ahead: इस हफ्ते कैसा रहेगा शेयर बाजार का मिजाज, इन 10 फैक्टर्स से होगा तय

Dalal Street Week Ahead: इस हफ्ते कैसा रहेगा शेयर बाजार का मिजाज, इन 10 फैक्टर्स से होगा तय

[ad_1]

Dalal Street Week Ahead: बीते सप्ताह शेयर बाजार फ्लैट नोट पर क्लोज हुए, यानि कि पूरे सप्ताह को मिलाकर इनमें न गिरावट रही और न ही तेजी। नए सप्ताह में Q3 वित्तीय नतीजे, महंगाई का डेटा समेत कई महत्वपूर्ण कारक बाजार का मूड तय करने के लिए तैयार हैं। इस बीच, निवेशकों की नजर 21,834 की नई ऊंचाई पर पहुंचने के बाद निफ्टी के 22,000 अंक की ओर बढ़ने पर होगी। 5 जनवरी को समाप्त सप्ताह में निफ्टी 0.1 प्रतिशत गिरकर 21,710 पर बंद हुआ, जबकि सेंसेक्स 0.3 प्रतिशत गिरकर 72,026 पर बंद हुआ। सेक्टरों में, निफ्टी रियल्टी और निफ्टी मीडिया सबसे ज्यादा लाभ में रहे, जबकि आईटी और मेटल सबसे ज्यादा घाटे में रहे। आने वाले सप्ताह में शेयर बाजार किस दिशा में मूव करेंगे, ये जिन 10 अहम फैक्टर्स से तय होगा, आइए डालते हैं उन पर एक नजर…

Q3 अर्निंग्स

कंपनियों ने तीसरी तिमाही अक्टूबर-दिसंबर के लिए वित्तीय नतीजे घोषित करना शुरू कर दिया है। BSE अर्निंग्स कैलेंडर के मुताबिक, 8 से 13 जनवरी के बीच लगभग 65 कंपनियां अपने वित्तीय नतीजे घोषित करने वाली हैं। इनमें TCS, Infosys, HCL Tech, Wipro, HDFC Life Insurance जैसे नाम शामिल हैं। इन तिमाही नतीजों पर मार्केट पार्टिसिपेंट्स की खास नजर रहेगी।

अमेरिकी महंगाई के आंकड़े और वैश्विक आर्थिक डेटा

यूएस CPI (कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स) के आंकड़े 11 जनवरी को जारी होंगे। दिसंबर के लिए हेडलाइन सीपीआई में महीने-दर-महीने आधार पर 0.3 प्रतिशत की वृद्धि का अनुमान है। महंगाई के आंकड़े यह निर्धारित करेंगे कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व कब तक ब्याज दरें ऊंची रखेगा। फेड रिजर्व ने संकेत दिया है कि वह इस वर्ष ब्याज दरों में तीन कटौती कर सकता है।

Image206012024

लाल सागर संकट

लाल सागर का संकट कम होने का कोई संकेत नहीं दिख रहा है। इजराइल-हमास संघर्ष गहराने के कारण हूती विद्रोहियों ने लाल सागर में कमर्शियल जहाजों पर हमला करना जारी रखा है। आर्थिक थिंक टैंक जीटीआरआई की एक रिपोर्ट में 6 जनवरी को कहा गया कि बढ़ते लाल सागर संकट से व्यापार प्रभावित हो सकता है क्योंकि इससे शिपिंग लागत 60 प्रतिशत तक और बीमा प्रीमियम 20 प्रतिशत तक बढ़ने का अनुमान है।

तेल की कीमतें

ब्रेंट और डब्ल्यूटीआई क्रूड दोनों ने वर्ष के पहले सप्ताह को उच्च स्तर पर समाप्त किया। सप्ताह के दौरान डब्ल्यूटीआई 3 प्रतिशत बढ़कर 73.81 डॉलर प्रति बैरल हो गया। इस बीच, ब्रेंट वायदा 2.2 प्रतिशत बढ़कर 78.76 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ। नए सप्ताह में तेल की कीमतें कैसी रहती हैं, इसका भी भारतीय शेयर बाजारों पर असर देखने को मिलेगा।

इस PSU स्टॉक ने 1 साल में दिया 163% का रिटर्न, जल्द होने वाला है स्प्लिट

घरेलू आर्थिक डेटा पॉइंट्स

भारत के ईवेंट्स की बात करें तो 12 जनवरी को दिसंबर महीने की खुदरा महंगाई का आंकड़ा सामने आएगा। इस पर विशेष नजर रहेगी। अधिकांश विशेषज्ञों को उम्मीद है कि खाद्य मुद्रास्फीति में संभावित वृद्धि के कारण महंगाई, नवंबर के 5.5 प्रतिशत से लगभग 10-20 बीपीएस बढ़ जाएगी। लेकिन मुख्य मुद्रास्फीति नवंबर के 4.05 प्रतिशत से थोड़ी कम रह सकती है। सीपीआई के अलावा, नवंबर के लिए औद्योगिक उत्पादन डेटा, 5 जनवरी को समाप्त सप्ताह के लिए विदेशी मुद्रा भंडार, 29 दिसंबर को समाप्त 15 दिनों की अवधि के लिए बैंक ऋण व जमा वृद्धि के आंकड़े भी 12 जनवरी को जारी किए जाएंगे।

प्राइमरी मार्केट की गतिविधि

कैलेंडर वर्ष 2024 का पहला मेनबोर्ड आईपीओ, ज्योति सीएनसी ऑटोमेशन 9 जनवरी को खुलेगा और 11 जनवरी को बंद होगा। एसएमई सेगमेंट में IBL Finance IPO भी 9 से 11 जनवरी तक खुलेगा। न्यू स्वान मल्टीटेक आईपीओ 10 जनवरी को और ऑस्ट्रेलियन प्रीमियम सोलर आईपीओ 11 जनवरी को खुलेगा। नए सप्ताह में 8 जनवरी को कौशल्या लॉजिस्टिक्स की शेयर बाजार में लिस्टिंग होगी।

वर्ष के पहले कारोबारी सप्ताह में, विदेशी संस्थागत निवेशक (FII) खरीदार थे जबकि DII (Domestic Institutional Investors) विक्रेता थे। पिछले सप्ताह FII ने 3,290.23 करोड़ रुपये की इक्विटी खरीदी, जबकि DII ने 7,296.50 करोड़ रुपये की बिकवाली की।

Wipro के एंप्लॉयीज नहीं जा सकते इन 10 कंपनियों में, ये है पूरी लिस्ट

कॉरपोरेट एक्शंस

अगले सप्ताह के प्रमुख कॉरपोरेट एक्शंस इस तरह हैं…

Image106012024

Disclaimer: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए सलाह या विचार एक्सपर्ट/ब्रोकरेज फर्म के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदायी नहीं है। यूजर्स को मनीकंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले हमेशा सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )