Budget में आवंटन उम्मीद से कम रहने के कारण ऑटो, डिफेंस, फर्टिलाइजर्स और रेलवे स्टॉक्स रहे सुस्त

Budget में आवंटन उम्मीद से कम रहने के कारण ऑटो, डिफेंस, फर्टिलाइजर्स और रेलवे स्टॉक्स रहे सुस्त

[ad_1]

Budget 2024- साल 2024 के अंतरिम बजट में इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के उद्देश्य से कैपेक्स में मध्यम वृद्धि की घोषणा की गई। ऐसा करते हुए फिसकल कंसोलिडेशन पर फोकस रखा गया। हालांकि यह ऑटोमोटिव, डिफेंस और फर्टिलाइजर्स जैसे विशिष्ट सेक्टर्स की अपेक्षाओं से कम रहा। इसके चलते पिछले वर्ष की तुलना में इस बार आवंटन में कमी देखी गई। लिहाजा आज के कारोबार में इन सेक्टर के शेयरों में नरमी देखने को मिली। यहां ऐसे स्टॉक्स दिये जा रहे हैं जो वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के 2024-25 बजट (Finance Minister Nirmala Sitharaman’s 2024-25 Budget) से प्रभावित नहीं हुए।

सेक्टर आवंटन में कमी के कारण फर्टिलाइजर्स शेयरों में रही गिरावट

1 फरवरी को बजट घोषणाओं के बाद फर्टिलाइजर्स कंपनी के शेयरों में भारी गिरावट आई। फर्टिलाइजर्स सेक्टर के लिए बजट आवंटन पिछले वर्ष के 1.75 लाख करोड़ रुपये से इस बार घटाकर 1.68 लाख करोड़ रुपये कर दिया गया।

आरसीएफ, नेशनल फर्टिलाइजर, चंबल फर्टिलाइजर्स, दीपक फर्टिलाइजर, एफएसीटी और जीएसएफसी (RCF, National Fertiliser, Chambal Fertilisers, Deepak Fertiliser, FACT and GSFC) जैसे स्टॉक्स 1 फरवरी को 6 प्रतिशत तक फिसल गये। सेक्टर के लिए आवंटन में कमी के साथ डिपार्टमेंट ऑफ फर्टिलाइजर्स (DOF) द्वारा प्रॉफिट मार्जिन पर कैप लगाने कारण इन शेयरों पर दबाव पड़ने की उम्मीद थी।

बजट बोनांझा से बेफिक्र रहे रेलवे शेयर

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन द्वारा 40,000 रेल डिब्बों को वंदे भारत स्टैंडर्ड में परिवर्तित करने की योजना का ऐलान करने के बावजूद, रेलवे वैगन शेयरों ने बजट के प्रति उदासीनता दिखाई। 1 फरवरी को कई शेयरों में 1-3 प्रतिशत की गिरावट आई। एक्सपर्ट्स ने कहा कि बाजार ने रेलवे शेयरों के लिए पहले से ही कई पॉजिटिव घोषणाओं को ध्यान में रखा था। इसके कारण इस सेक्टर में यह निराशाजनक प्रतिक्रिया देखने मिली।

अंतरिम बजट तक रेलवे शेयरों में जोरदार तेजी का रुख रहा। इनमें से कई शेयरों में पिछले महीने के दौरान 20 प्रतिशत तक की तेजी आई। 1 फरवरी को आरवीएनएल, इरकॉन इंटरनेशनल, ज्यूपिटर वैगन्स और टेक्समैको रेल एंड इंजीनियरिंग (RVNL, Ircon International, Jupiter Wagons, and Texmaco Rail & Engineering) के शेयरों में 3 प्रतिशत तक की गिरावट देखने को मिली।

निर्मल बंग के एनालिस्ट्स को उम्मीद थी कि रेलवे सेक्टर कैपेक्स आवंटन में सबसे अधिक हिस्सेदारी हासिल करेगा। लेकिन सेक्टर के लिए आवंटन सालाना आधार पर केवल 5 प्रतिशत बढ़ाया गया। जबकि बाजार को इसके 10 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद थी।

सरकार द्वारा EV budget में कटौती के कारण दोपहिया वाहनों के स्टॉक की रुकी रफ्तार

दोपहिया वाहनों के शेयरों ने आज मिला-जुला प्रदर्शन दिखाया। सरकार द्वारा फास्टर एडॉप्शन एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑफ (हाइब्रिड एंड) इलेक्ट्रिक व्हीकल (FAME) योजना के लिए बजट आवंटन को FY25 के लिए लगभग 44 प्रतिशत घटाकर 2,671 करोड़ रुपये कर दिया गया। ऐसा करने के बाद टू-व्हीलर्स शेयरों में गिरावट आई।

बजट घोषणा के बाद बजाज ऑटो, टीवीएस मोटर और हीरो मोटोकॉर्प (Bajaj Auto, TVS Motor, and Hero MotoCorp) के शेयरों में लगभग 1 प्रतिशत की गिरावट आई। FY24 में, सरकार ने FAME स्कीम के लिए 5,172 करोड़ रुपये निर्धारित किए थे।

FY25 के लिए आवंटन घटने से डिफेंस शेयरों में गिरावट

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के 2024-25 के अंतरिम बजट में डिफेंस सेक्टर के लिए कम घोषणाएं की। इसके बाद 1 फरवरी को डिफेंस शेयरों में गिरावट आई। सरकार ने वित्त वर्ष 2025 के लिए डिफेंस आवंटन को 4.55 लाख करोड़ रुपये पर स्थिर रखा। जबकि वित्त वर्ष 24 में यह 4.56 लाख करोड़ रुपये रहा था।

बजट घोषणा के बाद एचएएल, बीईएल, भारत डायनेमिक्स और मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स (HAL, BEL, Bharat Dynamics, and Mazagaon Dock Shipbuilders) जैसी प्रमुख डिफेंस कंपनियों के शेयरों में 2 प्रतिशत तक की गिरावट देखने को मिली।

डिस्क्लेमर: (यहां मुहैया जानकारी सिर्फ सूचना हेतु दी जा रही है। यहां बताना जरूरी है कि मार्केट में निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है। निवेशक के तौर पर पैसा लगाने से पहले हमेशा एक्सपर्ट से सलाह लें। मनीकंट्रोल की तरफ से किसी को भी पैसा लगाने की यहां कभी भी सलाह नहीं दी जाती है।)

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )