Bajaj Finance के शेयरों में लगातार गिरावट, खरीदें, होल्ड करें या बेच दें? एक्सपर्ट्स की ये है राय

Bajaj Finance के शेयरों में लगातार गिरावट, खरीदें, होल्ड करें या बेच दें? एक्सपर्ट्स की ये है राय

[ad_1]

Bajaj Finance Share Price : बजाज फाइनेंस के शेयरों ने अपने खराब प्रदर्शन से निवेशकों काफी निराश किया है। इस शेयर ने पहले अपने निवेशकों को काफी रिटर्न दिया है और कई ब्रोकरेज स्टॉक पर बुलिश भी रहे हैं। हालांकि, आज ऐसे समय में जब शेयर बाजार लगातार अपने रिकॉर्ड हाई को छू रहा है, इस स्टॉक में गिरावट देखने को मिल रही है। पिछले एक महीने में कंपनी के शेयरों में 13 फीसदी की गिरावट आ चुकी है। पिछले एक साल में इसने महज 5 फीसदी का रिटर्न दिया है, जबकि इस दौरान BSE सेंसेक्स 18 फीसदी से ज्यादा चढ़ा है। इसके अलावा, इस साल अब तक बजाज फाइनेंस के शेयर 8 फीसदी गिर चुके हैं। वहीं, बीएसई सेंसेक्स 0.94 प्रतिशत नीचे गया है।

2006 के बाद से ऐसे कई उदाहरण हैं जहां बजाज फाइनेंस के शेयरों ने लगातार चार महीनों तक BSE सेंसेक्स से कमजोर प्रदर्शन किया है। उदाहरण के लिए मार्च 2022 से जून 2022, अगस्त 2022 से नवंबर 2022, अप्रैल 2007 से जुलाई 2007 और जून 2006 से सितंबर 2006 की अवधि में हमने देखा कि बजाज फाइनेंस के शेयरों ने मासिक आधार पर खराब प्रदर्शन किया।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

फाइनेंशियल सेक्टर पर नजर रखने वाले एक्सपर्ट्स के अनुसार, “NSDL द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार जनवरी में FPIs सभी फाइनेंशियल सेक्टर्स में 3.6 अरब डॉलर के नेट सेलर्स थे। F&O की बात करें तो एफपीआई वित्तीय क्षेत्र में भी काफी हद तक कमजोर रहे हैं। डेरिवेटिव डेटा के मुताबिक वित्तीय स्थिति में ब्याज में बड़ी कमी देखी गई है। सुस्त डिपॉजिट ग्रोथ और फंड की ऊंची लागत ने मार्जिन पर असर डाला है। इसके अलावा, अन-सिक्योर्ड लेंडिंग भी चिंता का कारण रहा है। इसके अलावा, पिछले कुछ सालों में फाइनेंशियल में हायर इंस्टीट्यूशनल ओनरशिप भी उन कारणों में से एक रहा है जिसने बाधा का काम किया है। “

UBS के अनुसार बजाज फाइनेंस के शेयर एक साल के फॉरवर्ड प्राइस टू बुक वैल्यू के लॉन्ग-टर्म एवरेज से नीचे कारोबार कर रहे हैं। UBS ने हाल ही में बिक्री रेटिंग के साथ स्टॉक में कवरेज शुरू किया है। UBS की रिपोर्ट के अनुसार इसके बड़े आकार और बढ़ते कंपटीशन के बावजूद आम सहमति से इसकी ग्रोथ रिटर्न ऑन एसेट (ROA) प्रोफाइल को अधिक अहमियत दिए जाने की संभावना है।

कितना है टारगेट प्राइस

केआर चोकसी और फिलिप कैपिटल जैसे अन्य ब्रोकरेज ने 10,000 रुपये प्रति शेयर तक के टारगेट प्राइस के साथ बजाज फाइनेंस पर Buy रेटिंग दी है। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (MOFSL) ने बजाज फाइनेंस के लिए 8500 रुपये प्रति शेयर का टारगेट प्राइस रखा है। इसका मतलब है कि 9 फरवरी को बंद भाव से कंपनी के शेयरों में 27 फीसदी से अधिक की तेजी की संभावना है।

कैसा रहा है शेयरों का प्रदर्शन

पिछले एक महीने में Bajaj Finance के शेयरों में 13 फीसदी की गिरावट आई है। वहीं, पिछले 6 महीने में यह 5 फीसदी गिरा है। पिछले एक साल में इसके निवेशकों को महज 5 फीसदी का रिटर्न मिला है। हालांकि, पिछले 5 सालों में इसने 160 फीसदी का मुनाफा कराया है।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )