Adani Enterprises की सब्सिडियरी ने AAI के खिलाफ जीता एक केस, जानिए पूरा मामला

Adani Enterprises की सब्सिडियरी ने AAI के खिलाफ जीता एक केस, जानिए पूरा मामला

[ad_1]

गौतम अदाणी (Gautam Adani) की कंपनी अदाणी एंटरप्राइजेस लिमिटेड (Adani Enterprises) की सहायक कंपनी, मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (MIAL) ने एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) के खिलाफ एक मध्यस्थता मामला जीत लिया है। यह जानकारी अदाणी एंटरप्राइजेस ने शेयर बाजारों को 8 जनवरी को दी। यह विवाद 4 अप्रैल, 2006 के ऑपरेशन, मैनेजमेंट और डेवलपमेंट समझौते (OMDA) के तहत अप्रत्याशित घटना, यानि कोविड​​-19 महामारी के प्रभाव के कारण MIAL द्वारा मांगी गई कुछ राहतों के इर्द-गिर्द घूमता है। आर्बिट्रल ट्राइब्यूनल ने सावधानीपूर्वक विचार करते हुए 6 जनवरी 2024 को MIAL के पक्ष में फैसला दिया।

फैसले के तहत अप्रत्याशित घटना के चलते MIAL को 13 मार्च, 2020 से 28 फरवरी 2022 तक की अवधि के लिए मंथली एनुअल फीस का भुगतान करने से छूट दी गई है। इतना ही नहीं ट्राइब्यूनल ने इस निर्दिष्ट अवधि के लिए MIAL की ओर से AAI को भुगतान की गई मंथली एनुअल फीस को, ब्याज सहित लौटाने का आदेश भी दिया है।

इसके अलावा, MIAL को ऑपरेशनल कंटीन्युइटी प्रदान करते हुए OMDA का टर्म 13 मार्च, 2020 और 28 फरवरी, 2022 तक की अवधि के बराबर बढ़ाया जाना तय किया गया है। इस फैसले को AAI की ओर से अगले तीन महीनों के अंदर चुनौती दी जा सकती है। अदाणी एंटरप्राइजेस का कहना है कि ऐसा होने पर MIAL अपने पक्ष का उचित रूप से बचाव करने के लिए प्रतिबद्ध है। 8 जनवरी को अदाणी एंटरप्राइजेस के शेयर बीएसई पर 1.44 प्रतिशत की गिरावट के साथ 2963.55 रुपये पर बंद हुए।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )