शनिवार, 20 जनवरी को भी खुले रहेंगे शेयर बाजार, स्पेशल लाइव सेशन में कर सकेंगे ट्रेडिंग

शनिवार, 20 जनवरी को भी खुले रहेंगे शेयर बाजार, स्पेशल लाइव सेशन में कर सकेंगे ट्रेडिंग

[ad_1]

वैसे तो शेयर बाजारों में शनिवार और रविवार की छुट्टी रहती है, लेकिन इस बार शनिवार 20 जनवरी को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) खुले रहने वाले हैं। दरअसल दोनों एक्सचेंज एक दिन के लिए डिजास्टर रिकवरी साइट पर स्विच कर रहे हैं। ऐसा इस साइट की टेस्टिंग के लिए किया जा रहा है। किसी तकनीकी गड़बड़ी के चलते प्राइमरी साइट क्रैश हो जाने की स्थिति में भी ट्रेडिंग जारी रह सके, इसके लिए यह इंतजाम किया जा रहा है। दोनों ही एक्सचेंज पर 20 जनवरी को एक विशेष लाइव सेशन ऑर्गेनाइज हो रहा है।

डिटेल्स के तहत शनिवार, 20 जनवरी को BSE और NSE छोटे-छोटे दो सेशन में काम करेंगे। पहला स्पेशल लाइव सेशन प्राइमरी साइट पर रहेगा। इस सेशन में BSE और NSE दोनों का प्री-ओपन सेशन सुबह 9 बजे शुरू होगा। इसके बाद सामान्य बाजार सुबह 9:15 बजे खुलेगा और 10 बजे बंद होगा।

अब बात करते हैं दूसरे लाइव सेशन की। यह सेशन डिजास्टर रिकवरी साइट पर रहेगा। इसके तहत डिजास्टर रिकवरी साइट पर प्री-ओपनिंग सेशन सुबह 11:15 बजे शुरू होगा। इसके बाद सामान्य बाजार संचालन 11:23 बजे शुरू होगा। क्लोजिंग सेशन 12:50 बजे एंड होगा। मार्केट क्लोजिंग बेल 1 बजे सुनाई देगी। फ्यूचर और ऑप्शंस सेगमेंट में, प्राइमरी साइट पर बाजार सुबह 9:15 बजे खुलेगा और 10 बजे बंद होगा। डिजास्टर रिकवरी वेबसाइट पर यह सुबह 11:30 बजे खुलेगा और दोपहर 12:30 बजे बंद हो जाएगा।

सिक्योरिटीज के प्राइस बैंड

BSE और NSE दोनों कह चुके हैं कि डेरिवेटिव प्रोडक्ट्स सहित सभी सिक्योरिटीज का अधिकतम प्राइस बैंड 5 प्रतिशत होगा। पहले से ही 2 प्रतिशत या उससे कम प्राइस बैंड में मौजूद सिक्योरिटीज अपने संबंधित बैंड को बरकरार रखेंगी। क्लोज-एंडेड म्यूचुअल फंड 5 प्रतिशत प्राइस बैंड अपनाएंगे। फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट 5 प्रतिशत की डेली रेंज के अंदर ऑपरेट करेंगे। उस दिन सिक्योरिटीज या फ्यूचर कॉन्ट्र्रैक्ट्स के लिए कोई फ्लेक्सिबिलिटी नहीं होगी।

Brisk Technovision IPO 22 जनवरी को होगा ओपन; प्राइस बैंड, लॉट साइज, लिस्टिंग डेट समेत ये है पूरी डिटेल

इक्विटी सेगमेंट में दिन की शुरुआत में इक्विटी और फ्यूचर कॉन्ट्र्रैक्ट्स के लिए निर्धारित प्राइस बैंड, डिजास्टर रिकवरी साइट पर भी लागू होंगे। बयान में कहा गया है कि प्राइमरी साइट पर क्लोजिंग टाइम तक ऑप्शंस कॉन्ट्रैक्ट्स के प्राइस बैंड में कोई भी बदलाव, डिजास्टर रिकवरी साइट पर दिखाई देगा।

Disclaimer: यहां मुहैया जानकारी सिर्फ सूचना हेतु दी जा रही है। यहां बताना जरूरी है कि मार्केट में निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है। निवेशक के तौर पर पैसा लगाने से पहले हमेशा एक्सपर्ट से सलाह लें। मनीकंट्रोल की तरफ से किसी को भी पैसा लगाने की यहां कभी भी सलाह नहीं दी जाती है।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )