बीएसई स्मॉल-कैप इंडेक्स ने हिट किया फ्रेश हाई, 50 से ज्यादा स्मॉलकैप्स 44% तक चढ़े

बीएसई स्मॉल-कैप इंडेक्स ने हिट किया फ्रेश हाई, 50 से ज्यादा स्मॉलकैप्स 44% तक चढ़े

[ad_1]

शुक्रवार 9 फरवरी को समाप्त हुए उतार-चढ़ाव वाले सप्ताह में ब्याज दर संबंधी चिंताओं के बीच भारतीय बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। उम्मीद के मुताबिक भारतीय रिजर्व बैंक ने लगातार छठी बार अपनी मुख्य पॉलिसी रेट्स में कोई बदलाव नहीं किया। हालांकि ब्रॉडर इंडेक्सेस में मिला-जुला प्रदर्शन देखने को मिला। बीएसई स्मॉल-कैप इंडेक्स ने सप्ताह के दौरान नई रिकॉर्ड ऊंचाई को छुआ। लेकिन इसमें 0.4 प्रतिशत की गिरावट आई। जबकि बीएसई मिड-कैप इंडेक्स 1.6 प्रतिशत की बढ़त के साथ बंद हुआ। इस हफ्ते निफ्टी 71.3 अंक या 0.32 प्रतिशत गिरकर 21,782.5 पर बंद हुआ। जबकि बीएसई सेंसेक्स 490.14 या 0.67 प्रतिशत गिरकर 71,595.49 पर बंद हुआ।

सेक्टोरल इंडेक्सेस की बात करें तो निफ्टी पीएसयू बैंक इंडेक्स में 5 प्रतिशत, निफ्टी हेल्थकेयर इंडेक्स में 4.4 प्रतिशत, निफ्टी ऑयल एंड गैस इंडेक्स में लगभग 4 प्रतिशत, निफ्टी फार्मा इंडेक्स में 3.9 प्रतिशत, निफ्टी फार्मा इंडेक्स में 3.6 प्रतिशत और निफ्टी मीडिया इंडेक्स में 3 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई।

विदेशी संस्थागत निवेशकों (Foreign institutional investors (FIIs) ने 5,871.45 करोड़ रुपये की इक्विटी बेची। जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों (Domestic institutional investors (DIIs) ने पिछले कारोबारी हफ्ते के दौरान 5,325.76 करोड़ रुपये की इक्विटी खरीदी।

हालांकि फरवरी में अब तक FIIs ने 7,680.34 करोड़ रुपये की इक्विटी बेची। जबकि DIIs ने 8,661.41 करोड़ रुपये की इक्विटी खरीदी है।

Angel One के ओशो कृष्णन ने कहा “हमारे घरेलू बाजार में एक कमजोर कारोबारी सप्ताह देखा गया। जिसमें बेंचमार्क इंडेक्स रुझान में कोई स्पष्टता नहीं होने के कारण ये 400 अंक के एक छोटे से दायरे में कारोबार करता रहा। अनुकूल वैश्विक परिस्थितियों ने शुरू में बेंचमार्क को ऊपर चढ़ने के लिए बढ़ावा दिया। लेकिन साइकोलॉजिकल मार्क 22000 के पास आत्मविश्वास की कमी देखने को मिली। इस लेवल के आस-पास मुनाफावसूली हुई। पूरे हफ्ते के एक्शन के बीच निफ्टी 50 इंडेक्स ने साप्ताहिक आधार पर लगभग 0.33 प्रतिशत की गिरावट के साथ सत्र के लिए 21800 जोन से थोड़ा नीचे बंद हुआ। “

बीएसई स्मॉल-कैप इंडेक्स 7 फरवरी को ताजा रिकॉर्ड हाई पर पहुंच गया। लेकिन हफ्ते के दौरान इसमें 0.4 प्रतिशत की गिरावट आई। पिछले हफ्ते के दौरान Automotive Stampings and Assemblies, Visaka Industries, Jayaswal Neco Industries, Schneider Electric Infrastructure, Triveni Turbine, Sanghvi Movers, Indiabulls Real Estate, Parag Milk Foods, Everest Kanto Cylinder, S H Kelkar & Company, Garware Hi-Tech Films, SMC Global Securities, Jaiprakash Power Ventures, Bajaj Hindusthan Sugar, Jaiprakash Associates और EIH के शेयर 20-44 प्रतिशत बढ़े।

s1

S&P 500 पहली बार 5,000 के माइलस्टोन से ऊपर हुआ बंद, मेगाकैप रैली ने बाजार में भरा जोश

वहीं दूसरी तरफ पिछले हफ्ते के दौरान IFGL Refractories, WPIL, Aptech, Balmer Lawrie Investment, Best Agrolife, Mukand, Andrew Yule and Company, BEML और AGS Transact Technologies के शेयरों में 15-27 प्रतिशत के बीच गिरावट आई।

अगले हफ्ते कैसी रहेगी निफ्टी की चाल?

LKP Securities के रूपक डे की राय

रूपक डे का कहना है कि शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन निफ्टी को 20DMA पर सपोर्ट मिला। यदि यह निर्णायक रूप से 21,690 से नीचे फिसलता है तो ट्रेंड कमजोर हो सकता है। 21,690 के लेवल से नीचे निर्णायक गिरावट से निफ्टी 21,500 की ओर लुढ़क सकता है। इसके विपरीत, यदि यह 21,800 से ऊपर चला जाता है, तो हम निकट अवधि में रिकवरी देखने को मिल सकती है।

Sharekhan by BNP Paribas के जतिन गेडिया की राय

जतिन गेडिया का कहना है कि डेली चार्ट पर हम देख सकते हैं कि निफ्टी में गिरावट को 20-डे मूविंग एवरेज (21699) द्वारा नियंत्रित किया गया है। यह इसके ऊपर बने रहने और बंद होने में कामयाब रहा है। डेली और आवरली मोमेंटम इंडिकेटर में एक पॉजिटिव क्रॉसओवर दिख रहा है। ये एक खरीदारी संकेत होता है। हमारा मानना है कि ऊपर की ओर निफ्टी 21807 – 21830 तक बढ़ सकता है।

कुल मिलाकर, साइडवे प्राइस एक्शन जारी रहने की संभावना है। इसमें कंसोलिडेशन की रेंज 21,600 – 22,050 के बीच होने की संभावना है।

(डिस्क्लेमरः Moneycontrol.com पर दिए जाने वाले विचार और निवेश सलाह निवेश विशेषज्ञों के अपने निजी विचार और राय होते हैं। Moneycontrol यूजर्स को सलाह देता है कि वह कोई निवेश निर्णय लेने के पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट से सलाह लें।)

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )