चुनाव से पहले मार्केट ऑल टाइम हाई पर रहने की उम्मीद, लंबे समय के लिए निवेश करना होगा फायदेमंद: सुनील सुब्रमण्यम

चुनाव से पहले मार्केट ऑल टाइम हाई पर रहने की उम्मीद, लंबे समय के लिए निवेश करना होगा फायदेमंद: सुनील सुब्रमण्यम

[ad_1]

12 जनवरी को खत्म हुए हफ्ते में बाजार सेंसेक्स-निफ्टी साप्ताहिक आधार पर हल्की बढ़त लेकर बंद होने में कामयाब रहे। सेंसेक्स बीते हफ्ते जहां 0.75 फीसदी की बढ़त लेकर बंद हुआ। वहीं निफ्टी में करीब 0.85 फीसदी की तेजी रही। ऐसे में बाजार की आगे की दशा और दिशा पर बात करते हुए सुंदरम म्यूचुअल फंड (Sundaram MF) के एमडी एंड सीईओ सुनील सुब्रमण्यम (Sunil Subramaniam) ने कहा कि बाजार मजबूत स्थिति में नजर आ रहा है। एफआईआई ने सितंबर, अक्टूबर महीने में बाजार में भले बिकवाली की थी लेकिन अब बाजार में उनकी खरीदारी लौटी है। जिसके चलते नवंबर, दिसंबर बाजार के लिए बहुत अच्छा रहा। उन्होंने आगे कहा कि SIP और एकमुश्त निवेश लगातार बढ़ रहा है। MF का AUM पहली बार 50 लाख करोड़ के पार निकला है।

SIP निवेश भी 17,610 करोड़ के रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा है। नवंबर 2023 में SIP निवेश `17,073 करोड़ था। जो कि दिसंबर में SIP निवेश रिकॉर्ड हाई 17,610 करोड़ रुपये रहा।

उन्होंने इस बातचीत में आगे कहा कि बाजार में साल के शुरुआती 6 महीने बहुत तेजी की उम्मीद है। चुनाव से पहले मार्केट ऑल टाइम हाई पर रहने की उम्मीद है। ऐसे में बाजार में लंबे समय के लिए निवेश करना फायदेमंद है। उन्होंने आगे कहा कि MF में बेहतर रिटर्न की उम्मीद है। क्योकि इक्किटी के रूझान काफी अच्छे रहे है। उन्होंने निवेशकों को लार्ज कैप ओरिएंटेड फंड पर ज्यादा फोकस करने की सलाह दी है। लार्ज एंड मिड कैप, फ्लेक्सी कैप में निवेश की सलाह दी है।

फंड को लेकर स्ट्रैटेजी? पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि MF में बेहतर रिटर्न की उम्मीद है। अर्निंग सीजन काफी महत्वपूर्ण है। कंजम्पशन कैटेगरी में संभावनाएं ज्यादा है। वैल्युएशन पर ध्यान देने की जरूरत है। उनका कहना है कि एसेट एलोकेशन पर फोकस करना चाहिए।

मल्टी एसेट एलोकेशन फंड पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि यह फंड कम से कम 3 एसेट क्लास में निवेश करता है। हर कैटेगरी में कम से कम 10% निवेश जरूरी है। इक्विटी, डेट, गोल्ड, REIT में एक्सपोजर है। फंड का 65% निवेश इक्विटी में है। जोखिम क्षमता के अनुसार एसेट एलोकेशन करें। उन्होंने आगे कहा कि एक ही फंड के जरिए विभिन्न एसेट क्लास में निवेश करता है। इसलिए यह फंड बेहतर है। इक्विटी में लार्ज,मिड और स्मॉलकैप में एक्सपोजर है। इक्विटी से लंबी अवधि में वेल्थ क्रिएशन देखने को मिल रहा है। गोल्ड से महंगाई और अस्थिरता में मदद मिलती है। डेट में निवेश स्थिर रिटर्न प्रदान करता है। REIT, InvIT फंड की वैल्यू बढ़ने में मदद मिलती है।

मल्टी एसेट एलोकेशन की स्ट्रैटेजी पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि लंबी अवधि में पूंजी बढ़ाने के लिए अच्छा विकल्प है। कम से कम 3-5 साल का निवेश सही है। कंसर्वेटिव निवेशक डेट ओरिएंटिड मल्टी एसेट फंड लें। एग्रेसिव निवेशक इक्विटी एलोकेशन वाले फंड रखें। उन्होने आगे कहा कि यह मॉडरेट रिस्क वाला फंड है। फंड के जरिए डेट को गोल्ड से रिप्लेस कर रहे हैं। बेहतर रिटर्न वाला फंड है। नई उभरती निवेश रणनीति SIP है।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Disqus ( )