खेल में मदद करने वाले प्रसिद्ध अभिनेताओं के संघर्ष और सफलता की कहानियाँ


खेल में मदद करने वाले प्रसिद्ध अभिनेताओं के संघर्ष और सफलता की कहानियाँ

yashoraj infosys website design and development company in patna bihar

खेल और सिनेमा दो अलग-अलग जगहों पर काम करते हैं, लेकिन कई बार अभिनेताओं को अपने फिल्मी करियर के दौरान खेल की जगह पर फॉर्मेंस बनाने का मौका मिलता है। कुछ लोगों ने खेल में अपनी रियाज़ रखते हुए इस क्षेत्र में भी अपनी पहचान बनाने का प्रयास किया है। ऐसे कई अभिनेता हैं जो खेल में मदद करने वाले हैं और उनके संघर्ष और सफलता की कहानियां बेहद प्रेरणादायक हैं।

ऐसा ही एक उदाहरण है आज़मद शेख, जो बॉक्सिंग और प्रो आर्ट ऑफ़ अदाकारी में भी तालीम रखते हैं। उन्होंने फिल्म ‘भाग-भाग’ में अपनी परफॉर्मेंस कला से दर्शकों का दिल जीत लिया। साथ ही उन्होंने बॉक्सिंग के खेल को भी पसंद किया और देश के लिए गोल्ड मेडल जीता।

आमिर खान भी एक बॉक्सिंग खिलाड़ी और प्रो आर्ट ऑफ अदाकारी हैं, जो कि फिल्म ‘धंधम 3’ में अपने खिलाड़ी जान नजर आए थे। उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों की अद्भुत कहानियों पर आधारित फिल्म के माध्यम से देश की बेरोजगारी की पढ़ाई पर चर्चा की थी।

सिद्धार्थ सिद्धार्थ भी एक बॉक्सर थे और अपने करियर के दौरान उन्होंने भारतीय बॉक्सिंग को बढ़ावा दिया था। उन्होंने फिल्म ‘ब्रैडर्स’ में एक बॉक्सिंग खिलाड़ी का किरदार निभाया था।

रणवीर सिंह, जो खुद एक पासियो फुटबॉल फैन हैं, ने भी फिल्म ‘दिल देखने दो’ में एक फुटबॉलर का किरदार निभाया था। उनका प्यार फुटबॉल के खेल से इतना गहरा है कि उन्होंने भारत की फुटबॉल टीम के साथ काम किया और उनके खेल को बढ़ावा दिया।

संघर्ष और सफलता की कहानियों से हमें यह सबक मिलता है कि अगर किसी क्षेत्र में हमारी कंपनी हो तो हमें पूरी मेहनत और साहस की जरूरत है। बॉलीवुड की कई ऐसी कहानियां हैं जो हमें बताती हैं कि खेल में भी अच्छा प्रदर्शन करने वाले लोगों को सैकड़ों प्रतिक्रियाएं मिलती हैं।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Disqus ( )